Friday , August 18 2017
Home / Islami Duniya / लेबनानी महिला को अपनी मौत का कैसे पहले ही पता चल गया था?

लेबनानी महिला को अपनी मौत का कैसे पहले ही पता चल गया था?

इस्तांबुल: तुर्की के शहर इस्तांबुल में नववर्ष समारोह के दौरान एक नाइट क्लब में आईएस के हमले में मरने वाली एक लेबनानी महिला ने देश से रवानगी से पहले फेसबुक पर ऐसी लेख पोस्ट की थी जिसमें उसने अपनी मौत की भविष्यवाणी कर दी थी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

आई एम लेबनान समाचार वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार रीता शामी की मां कैंसर के घातक रोग का शिकार होकर चार महीने पहले जान की बाजी हार गई थीं फेसबुक पर लिखा, ”उम्मीद है हम तुर्की में भरपूर मज़ा करेंगे। लेकिन सबसे बुरी घटना यह हो सकता है कि एक बम विस्फोट में मारी जाऊँगी और माँ के पीछे चली जाऊँगी।”

सूत्रों के अनुसार इस पीड़ा से निढाल पिता ने लेबनान के एमटीवी को बताया कि ”मैंने इसे (तुर्की जाने से) रोकने की कोशिश की थी लेकिन उसने अपनी दोस्तों के साथ तुर्की जाने का फैसला कर लिया था”।

रीता ने फेसबुक पर मौत से संबंधित एक कविता भी प्रकाशित की थी और उसमें लिखा था: ”वह हमेशा यहाँ मौजूद हैं और वह हमेशा हमारे बीच और आसपास मौजूद हैं। ”उसने कई अन्य पोस्टों में अपनी मां के निधन पर गहरा दुख और खेद व्यक्त किया था।

उल्लेखनीय है कि कट्टरपंथी लड़ाका समूह आईएस ने इस्तांबुल नाइट क्लब में सशस्त्र हमले की जिम्मेदारी स्वीकार की है. आई एस के एक हमलावर ने नए साल की खुशियां मनाने वाले लोगों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी जिससे 39 लोग मारे गए और 69 घायल हो गए थे।

TOPPOPULARRECENT