Thursday , October 19 2017
Home / Khaas Khabar / लोकसभा शुरू होते ही ठप

लोकसभा शुरू होते ही ठप

15वीं लोकसभा का आखिरी सेशन शुरू होते ही हंगामा शुरू हो गया जिसकी वजह से लोकसभा दोपहर 12 बजे तक के लिए मुल्तवी कर दी गई पार्लियामेंट का आखिरी सेशन भारी शोर-शराबे के बीच शुरू हुआ और तेलंगाना मुद्दे पर जोरदार हंगामे के बीच दोनों ऐवानो क

15वीं लोकसभा का आखिरी सेशन शुरू होते ही हंगामा शुरू हो गया जिसकी वजह से लोकसभा दोपहर 12 बजे तक के लिए मुल्तवी कर दी गई पार्लियामेंट का आखिरी सेशन भारी शोर-शराबे के बीच शुरू हुआ और तेलंगाना मुद्दे पर जोरदार हंगामे के बीच दोनों ऐवानो की कार्यवाही फौरन मुल्तवी पड़ी | पार्लियामेंट की कार्यवाही को दोपहर 12 बजे तक मुल्तवी कर दी गयी है | राज्यसभा में भी हंगामा हुआ और कार्यवाही को दोपहर 12 बजे तक मुल्तवी कर दी गयी उधर, कांग्रेस के सिनीयर लीडर फायनेंस मिनिस्टर पी चिदंबरम ने कहा है कि बिल पास होने की उम्मीद नहीं है |

एक तरफ जहां हुकूमत इस सेशन में ताबड़तोड़ बिल पास करवाना चाहती है, तो वहीं दूसरी तरफ तेलंगाना मुद्दे पर हुकूमत के ही कुछ एमपी अदम एतेमाद की तजवीज लाने की बात कर चुके थे वज़ीर ए आज़म मनमोहन सिंह ने आज सेशन शुरु होने से पहले मीडिया से बातचीत के दौरान बिल पास कराने के लिए मदद मांगे थे |

15वीं लोकसभा के आखिरी सेशन के लिए वज़ीर ए आज़म ने सभी पार्टियों से अपील की कि वे सेशन को अच्छी तरीके से चलाने में ताउन करें लेकिन तेलंगाना मुद्दे पर अपनी पार्टी के एमपी की तरफ अदम एतेमाद की तजवीज के सवाल पर पीएम ने चुप्पी साधे रखी |

आम इंतेखाबात से पहले शुरू हो रहे आखिरी पार्लिमानी सेशन में हुकूमत ने पहले से ही 39 बिलो को पास कराने की तैयारी कर रखी है, लेकिन पार्लियामेंट का सही तौर पर चलने के आसार कम ही नजर आ रहे हैं दरअसल, अपोजिशन पार्टियों ने भी इस छोटे से सेशन में महंगाई से लेकर अगस्ता वेस्टलैंड खरीद और रिजर्वेशन से लेकर तमिल मछुआरों तक के कई मुद्दे तैयार कर रखे हैं हुकूमत को इन मुद्दों पर अपोजिशन के कड़े तेवरों का सामना करना पड़ेगा |

पार्लियामेंट को सही से चलाने के लिए मंगल के रोज़ लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार ने कुल जमाअती इजलास बुलाई थी हुकूमत का मकसद यह है कि Finance Bills के साथ-साथ Anti-corruption bill पास कर दिए जाएं उन बिलो के सामने ज़्यादा रूकावटें नहीं है |

लेकिन तेलंगाना को लेकर अभी से दिल्ली गर्म है ऐसे में इम्कान जताया जा रहा है कि कामकाज बहुत आसान नहीं होगा दूसरी तरफ बीजेपी, वामदल और जदयू वगैरह के पास अपना-अपना मुद्दा है सुषमा ने साफ कर दिया है कि बीजेपी अगस्ता वेस्टलैंड, दिल्ली में अरुणाचल के बच्चे की मौत जैसे कई मुद्दों पर सरकार से जवाब मांगेगी |

मंगल की शाम एनडीए की बैठक में भी अपोजिशन ने अपनी हिकमत अमली तय कर ली है हुकूमतपर दबाव बनाया जाएगा कि सभी बिल चर्चा के बाद ही पास कराए जाएं, वहीं, जदयू के सदर शरद यादव रिजर्वेशन का मौजू फिर से उठाएंगे|

TOPPOPULARRECENT