Friday , August 18 2017
Home / Bihar News / लोजपा लीडर का क़त्ल, राघोपुर से आते वक्त मुजरिमों ने एके47 से मारी गोली

लोजपा लीडर का क़त्ल, राघोपुर से आते वक्त मुजरिमों ने एके47 से मारी गोली

पटना : फतुहा थाने के कच्ची दरगाह में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के पास मुजरिमों ने एके 47 से ताबड़तोड़ फायरिंग कर लोजपा लीडर व साबिक मुखिया बृजनाथी सिंह को गोलियों से भून दिया। उनके साथ रही उनके छोटे भाई बदरीनाथ सिंह की बीवी पूजा देवी को भी पैर में गोली लगी।

हालांकि बृजनाथी सिंह की बीवी वीरा देवी व उनका भतीजा रौशन कुमार बाल-बाल बच गये। ड्राइवर ने स्कॉर्पियो गाड़ी को किसी तरह से वहां से निकाला और सभी को इलाज के लिए अगमकुआं चिरायू अस्पताल लाया गया। यहां बृजनाथी सिंह की मौत हो गयी और पूजा देवी को संगीन हालत में बेहतर इलाज के लिए पारस अस्पताल ले जाया गया। रौशन बृजनाथी सिंह के छोटे भाई अमरनाथ सिंह व राधोपुर ब्लाक चीफ मुन्नी देवी का बेटा है। बृजनाथी सिंह असल तौर से राधाेपुर के फतेहपुर के रहने वाले हैं और वे वहां से अपने अगमकुआं रिहाईशगाह की तरफ आ रहे थे।

वाकिया के बाद पुलिस ने इलाके की घेराबंदी तो की, लेकिन कोई मुजरिम नहीं पकड़ा गया। पुलिस ने लाश को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बृजनाथी को छह से ज्यादा गोलियां लगी थीं। पुलिस ने जाए हादसा से कारतूस के खोखा को बरामद किया है।

इधर, वाकिया के मुखालिफत में गुस्साये लोगों ने महात्मा गांधी सेतु जाने वाले बाइपास को जाम कर दिया। वे लोग एसएसपी मनु महाराज को बुलाने की मांग पर अड़े थे। एसएसपी ने बताया कि पहली नज़र में मामला गैंगवार से जुड़ा है। बृजनाथी सिंह पर कई मुजरिमाना मामले दर्ज हैं और उनकी अदावत मुन्ना सिंह गिरोह से काफी दिनों से चल रही थी। हालांकि उन्होंने कहा कि अहले खाना के बयान और तहकीकात के बाद ही सूरते हाल वाज़ेह हो सकती है।

TOPPOPULARRECENT