Tuesday , October 17 2017
Home / Crime / लोहे की गर्म रॉड से पीटकर दी गई प्यार की सजा!

लोहे की गर्म रॉड से पीटकर दी गई प्यार की सजा!

नई दिल्ली: मध्यप्रदेश के हौशंगाबाद में एक ऐसा दिल दहला देने वाला मामला सामने आया जहां एक आशिक जोडों पर मुहब्बत के ताल्लुकात को लेकर ऐसा कहर बरपाया गया जिसे जानकर आपकी रुह कांप जाएगी.

नई दिल्ली: मध्यप्रदेश के हौशंगाबाद में एक ऐसा दिल दहला देने वाला मामला सामने आया जहां एक आशिक जोडों पर मुहब्बत के ताल्लुकात को लेकर ऐसा कहर बरपाया गया जिसे जानकर आपकी रुह कांप जाएगी.

एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के मुताबिक यह मामला मध्यप्रदेश के हौशंगाबाद का है जहां गांव वालों ने आशिक जोड़े को पूरे गांव के सामने दोनों को गंजाकर जूते की माला पहनाया और पूरे गांव में घुमाया गया. सिर्फ इतना ही नहीं एहतिजाज करने पर दोनों को लोहे की सुलगती रॉड से पीटा गया.

मुल्ज़िमों का मन इससे भी नहीं भरा तो दोनों को पेशाब पीने के लिए मजबूर किया गया लेकिन आप जानकर हैरान हो जाएंगे कि ढेरों जुल्म ढहाने के बावजूद भी गांव वाले उनका हौसला नहीं तोड़ पाए.

मामला सामने आने पर पुलिस ने चार मुल्ज़िमों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक यह वाकिया होंशगाबाद के मैदाखेड़ा गांव का है. पुलिस के मुताबिक सिंगोडा गांव के साकिन अक्षय मेहरा का मैदाखेड़ा गांव के साकिन रामगोपाल ठाकुर के यहां आना जाना था.

इसी दौरान रामगोपाल की बीवी के साथ अक्षय का लव अफेयर शुरू हो गया. जल्द ही इसकी भनक खातून के शौहर को भी लग गई, तो उसने अपनी बीवी को धमकाना शुरू कर दिया.

सिर्फ इतना ही नही उसने अक्षय को भी अपनी बीवी से नहीं मिलने की धमकी दी थी. लेकिन रोज रोज की परेशानी से तंग आकर रामगोपाल की बीवी ने अपना घर छोड़ दिया और अक्षय के साथ आकर मंडीदीप में अक्षय के घर में आकर रहने लगी.

और जब इसका पता गांव वालों को लगा तो वो गुजश्ता जुमे के रोज़ अक्षय के घर पहुंच गए और दोनों को यह कहकर वापिस मैदाखेड़ा गांव ले आए कि उनकी कानूनी रूप से शादी करा दी जाएगी.

गांव वालों पर यकीन कर अक्षय और उसकी माशूका वापिस गांव आ गए. बताया जाता है कि इसके बाद दोनों पर पूरे गांव के सामने सख्त ज़ुल्म किए गए. गांव के बुजुर्ग लोगों की मौजूदगी में अक्षय और उसकी माशूका को ना सिर्फ गंजा किया गया बल्कि जूते की माला डालकर पूरे गांव में घुमाया भी गया.

गांव वालों का इसके बाद भी मन नही भरा तो इसके बाद दोनों के चेहरे पर लोहे की गर्म रॉड से हमला किया गया. हैवानियत की सभी हदें पार करते हुए दोनों को पेशाब पीने पर मजबूर किया गया. जब दोनों शदीद तौर से लहूलुहान हो गए इसके बाद उन्हें थाने के बाहर फेंक दिया गया.

सिर्फ इतना ही नहीं गांव वालों ने धमकी दी कि अगर किसी ने दोबारा इस तरह की हरकत की तो उसका भी यही अंजाम किया जाएगा. नाज़ुक हालत में पुलिस ने उन्हें अस्पताल में शरीक कराया जहां खातून ला ने किशोर के साथ रहने की बात कही है. वहीं पुलिस ने मामले में चार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया.

TOPPOPULARRECENT