Thursday , October 19 2017
Home / District News / वक़्फ़ जायदादों पर ग़ैर मजाज़ क़ब्ज़ों की बरख़ास्तगी केलिए इक़दामात

वक़्फ़ जायदादों पर ग़ैर मजाज़ क़ब्ज़ों की बरख़ास्तगी केलिए इक़दामात

बीदर, १६ दिसम्बर: (सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) जनाब अनवर मापनाड़े चेयरमैन

बीदर, १६ दिसम्बर: (सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) जनाब अनवर मापनाड़े चेयरमैन
कर्नाटक स्टेट अक़ल्लीयती कमीशन ने बताया है कि ओक़ाफ़ी जायदादों पर से नाजायज़ क़बज़ा जात की बरख़ास्तगी को कमीशन यक़ीनी बनाना चाहता है । मौसूफ़ बी के डी बी ऑफ़िस बिस्वा कल्याण में मुनाक़िदा एक अवामी इजलास को मुख़ातिब कररहे थे । उन्हों ने बताया कि बिस्वा कल्याण ताल्लुक़ा में मौजूद (448) वक़्फ़ इमलाक पर मुश्तमिल (795)एकड़ अराज़ी का कमीशन चाहता हीका तहफ़्फ़ुज़ किया जाय । लिहाज़ा शहर बिस्वा
कल्याण के ज़िम्मा दारान वक़्फ़ इमलाक , मतोलयान , सदूर-ओ-सैक्रेटरीज़ के साथ मुशावरत के बाद कोई लायेहा-ए-अमल तैय्यार किया जाएगा । उन्हों ने एतराफ़ किया कि बिस्वा कल्याण टाउन के (14) ओक़ाफ़ी इदारा जात पर नाजायज़ क़बज़े मौजूद हैं जिन्हें बरख़ास्त करवाकर ये ज़मीन वक़्फ़ बोर्ड के क़बज़ा-ओ-तहवील में दे दी जाएगी । जनाब मुहम्मद अलीम उद्दीन अंजुम ऐडवोकेट और मुजाहिद पाशाह क़ुरैशी ने इस मौक़ा पर चेयरमैन कमीशन से मुक़ामी मुस्लमानों को क़ब्रिस्तान केलिए जगह फ़राहम करने का मुतालिबा किया ।
मिस्टर इकराम उद्दीन खादी वाले ने चेयरमैन के इलम में ये बात लाई कि मुस्लिम अक़ल्लीयती तबक़ा से ताल्लुक़ रखने वाले दर्ज फ़हरिस्त तबक़ात मसलन क़स्साब , कसाई , दोरीश , भलारी और बुनकरों को कास्ट सरटीफ़ीकेट इजरा नहीं किया जा रहा है जो मज़कूरा तबक़ात के साथ सरासर इंसाफ़ी के मुतरादिफ़ है । चेयरमैन अक़ल्लीयती कमीशन ने इस पर इज़हार हैरत करते हुए तहसीलदार और स्टेट कमिशनर को हिदायत दी कि वो मज़कूरा तबक़ात के दरख़ास्त गुज़ारों को कासट सर्टीफ़ीकेट जारी करें । इसी दौरान अख़बारी नुमाइंदों के साथ बातचीत करते हुए जनाब मानपाड़ी ने बताया कि बिस्वा कल्याण में (400) अकड़ा ओक़ाफ़ी
जायदादों पर नाजायज़ क़बज़े हुए हैं । इस से क़बल उन्होंने सैक्रेटरी अक़ल्लीयती कमीशन जनाब अतीक़ अहमद और मुअज़्ज़िज़ रियास्ती रुकन पी एन पंजा मन और अनीस अल रहमान चेयरमैन ज़िला वक़्फ़ कमेटी बीदर के हमराह बिस्वा कल्याण टाउन की मुख़्तलिफ़ दरगाहों , मसाजिद और आशूरा ख़ानों का मुआइना
किया । इसी दौरान जनाब मीर वारिस अली साबिक़ चेयरमैन टाउन प्लानिंग अथॉरीटी और जनाब मीर अमानत अली ऐडवोकेट ने दार अस्सलाम शादी महल से मुताल्लिक़ चेयरमैन को तफ़सीलात पेश कीं और उन पर वाज़िह किया गया कि शादी महल की तामीर केलिए बयाक वर्ड क्लास ऐंड माईनारीटीज़ डिपार्टमेंट के इलावा
मैंबर पार्लीमैंट फ़ंड से रक़म हासिल की गई है और फिर मुक़ामी अह्ले ख़ैर हज़रात के तआवुन को भी इस के तामीर की तकमील में बहुत बड़ा दख़ल हासिल रहा है । मिस्टर मानपाड़े ने दारुस्सलाम शादी महल के इलावा
क़ब्रिस्तान-ओ-दुर्गा रह हज़रत इला-ए-उद्दीन बाबा का भी मुआइना किया जहां वाक़्य दुक्का नात और क़ुबूर को सड़क की तौसीअ के नाम पर गुज़श्ता दिनों महनदम किया गया है । चेयरमैन कमीशन को मुसलमान् बिस्वा कल्याण की जानिब से एक याददाश्त भी पेश की गई जिस में बताया गया है कि सड़कों की तौसीअ के
नाम पर किसी भी फ़र्द को मुआवज़ा अदा किया गया और ना ही मुतबादिल फ़राहम
किया गया ।

TOPPOPULARRECENT