Tuesday , October 17 2017
Home / India / वज़ारत-ए-उज़मा केलिए राहुल गांधी मोदी में मुक़ाबला

वज़ारत-ए-उज़मा केलिए राहुल गांधी मोदी में मुक़ाबला

लोक सभा इंतिख़ाबात 2014 -ए-केलिए सख़्त मुक़ाबला आराई का इमकान, अमरीकी कांग्रेस की रिपोर्ट

लोक सभा इंतिख़ाबात 2014 -ए-केलिए सख़्त मुक़ाबला आराई का इमकान, अमरीकी कांग्रेस की रिपोर्ट
वाशिंगटन 14 सितंबर (एजैंसीज़) हिंदूस्तान में अहम तरीन वज़ारत-ए-उज़मा के लिए सयासी मुक़ाबला आराई से मुताल्लिक़ मुबाहिस के दौरान अमरीकी कांग्रेस ने अपनी रिपोर्ट में बतायाकि लोक सभा इंतिख़ाबात 2014 -ए-में इमकान ग़ालिब है कि मुतनाज़ा चीफ़ मिनिस्टर गुजरात नरेंद्र मोदी और कांग्रेस के नौजवान लीडर राहुल गांधी के दरमयान मुक़ाबला होगा। अमरीकी कांग्रेस रिसर्च विंग की हिंदूस्तान पर तैय्यार करदा रिपोर्ट में बताया गया है कि नरेंद्र मोदी को 2014 -ए-से क़बल क़ौमी सतह पर एक मज़बूत लीडर के तौर पर पेश करने की कोशिश की जा रही है। अमरीकी कांग्रेस ने मोदी को वज़ारत-ए-उज़मा का मज़बूत उम्मीदवार क़रार दिया है। अप्पोज़ीशन पार्टी बी जे पी आम इंतिख़ाबात में मोदी को क़ौमी लीडर के तौर पर पेश करेगी। इस ताल्लुक़ से राहुल गांधी के मौक़िफ़ पर सवाल उठ खड़े होंगे ताहम रिपोर्ट में बैन-उल-अक़वामी सयासी सतह पर हिंदूस्तान के असरात का जायज़ा लेते हुए ये वाज़िह नहीं बताया गया कि आया 2014 -ए-के इंतिख़ाबात में मोदी बमुक़ाबला राहुल गांधी हिस्सा लेंगे। 2009 ए- के इंतिख़ाबात के नताइज भी कांग्रेस के नौजवान लीडर के सयासी इमकानात पर असरअंदाज़ होंगे। ये रिपोर्ट यक्म सितंबर को तैय्यार की गई है जिसे फ़ैडरेशन आफ़ अमरीकी साइंटिस्ट्स ने कल ही जारी किया है। सी आर ऐस रिपोर्ट अमरीकी क़ानून साज़ों के लिए तैय्यार की गई है जो अब मंज़रे आम पर आगई है ताहम अमरीका के बाअज़ थिंक टैंकस और ग़ैर सरकारी तंज़ीमों की कोशिशों के बाइस इस रिपोर्ट को अवाम के लिए काबिल दस्तयाब बनाया गया है। रिपोर्ट में हिंदूस्तानी सियासत के ताल्लुक़ से कई सवालात भी उठाए गए हैं। इंतिख़ाबात में हिक्मत-ए-अमली इख़तियार किए जाने के रिकार्ड पर भी मिला-जुला रद्द-ए-अमल ज़ाहिर किया गया है। कांग्रेस सदर और यू पी ए चीर परसन सोनीया गांधी मख़लूत इंतिख़ाबात पर तवज्जा देने की कोशिश करेंगे ताकि उन की पार्टी को बेहतर कामयाबी मिल सके। इन की बैरूनी नज़ाद शनाख़्त की वजह से उन्हें क़ौमी सियासत में रुकावटें पैदा होरही हैं। 2004 ए- के इंतिख़ाबात में भी सोनीया गांधी की बैरूनी नज़ाद शनाख़्त ने वज़ारत-ए-उज़मा की राह में रुकावट खड़ी की थी। रिपोर्ट में मज़ीद बताया गया कि सोनीया गांधी के फ़र्ज़ंद राहुल गांधी कांग्रेस के पसंदीदा और वसीअ तर काबिल-ए-क़बूल लीडर के तौर पर उभर रहे हैं। वो कांग्रेस क़ियादत के वारिस भी हैं। एक और रिपोर्ट में बताया गया है कि बी जे पी के गोशों में नरेंद्र मोदी के ताल्लुक़ से बाअज़ तहफ़्फुज़ात ज़हनी पाई जाती है। पार्टी के कई सीनीयर क़ाइदीन मोदी को दिल्ली तक आने से बाज़ रखने की कोशिश करेंगे। इन में सुषमा स्वराज, अरूण जेटली, राज नाथ सिंह, वैंकया नायडू मोदी को वज़ारत-ए-उज़मा तक पहूंचने की कोशिशों में हाइल होसकते हैं। इसी लिए सीनीयर पार्टी लीडर अडवानी को क़ौमी सतह पर मज़बूत बनाने के लिए रिश्वत के ख़िलाफ़ मुहिम का हिस्सा बनाकर रथ यात्रा निकालने की तरग़ीब दी गई है। अमरीकी कांग्रेस रिपोर्ट में ये भी बताया गया कि बी जे पी सदर नतन गडकरी अपनी कुर्सी बचाने के लिए हर मुम्किना कोशिश करेंगे लेकिन बी जे पी के दाख़िली उमोर से पता चलता है कि पार्टी क़ियादत में तबदीली लाने की बातें होरही हैं। नतन गडकरी को हटा दिया गया तो नरेंद्र मोदी ही बी जे पी के नए सदर मुंतख़ब होंगे। 2014 ए- के इंतिख़ाबात से क़बल बी जे पी में तबदीलीयां आजाऐंगी।
राहुल बमुक़ाबला मोदी , अमरीकी रिपोर्ट कांग्रेस की जानिब से मुस्तर्द
नई दिल्ली । 14 सितंबर (पी टी आई) इंडियन नैशनल कांग्रेस ने 2014-ए-के लोक सभा इंतिख़ाबात में वज़ारत-ए-उज़मा के लिए नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के दरमयान रास्त मुक़ाबला होने से मुताल्लिक़ अमरीकी कांग्रेस (ऐवान नुमाइंदगान) की रिपोर्ट को मुस्तर्द करदिया है। ए आई सी सी के तर्जुमान मनीष तीवारी ने आज यहां अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि मैंने ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं देखी है और फ़ी अलवा कई ऐसी कोई रिपोर्ट का वजूद भी है तो में इस को इस हद तक काबिल-ए-एतिबार नहीं समझता जिस पर कोई रद्द-ए-अमल ज़ाहिर किया जा सके। अमरीकी कांग्रेस की ग़ैर जांबदार कमेटी ने ये रिपोर्ट जारी की है, जिस में ख़्याल ज़ाहिर किया गया है कि गुजरात के चीफ़ मिनिस्टर नरेंद्र मोदी 2014 में होने वाले आम इंतिख़ाबात में वज़ारत-ए-उज़मा केलिए बी जे पी के एक ताक़तवर दावेदार होंगे। इस के साथ इस इमकान पर भी तफ़सीली बेहस की गई है कि कांग्रेस की तरफ़ से राहुल गांधी को वज़ारत अज़मी केलिए उम्मीदवार के तौर पर उभारा जाएगा

TOPPOPULARRECENT