Wednesday , October 18 2017
Home / India / वज़ीर आज़म(प्रधानमंत्री) का क़ौम से ख़िताब(संबोधित) मुज़हका ख़ेज़

वज़ीर आज़म(प्रधानमंत्री) का क़ौम से ख़िताब(संबोधित) मुज़हका ख़ेज़

शिवसेना के सरबराह बाल ठाकरे ने आज वज़ीर आज़म मनमोहन सिंह पर तन्क़ीद की जिन्हों ने रीटेल शोबा में रास्त बैरूनी सरमाया की इजाज़त देने का फैसला किया है। मिस्टर ठाकरे ने कहा कि जब वज़ीर आज़म इस मसले पर अपनी एक देरीना हलीफ़ ममता बनर्जी को

शिवसेना के सरबराह बाल ठाकरे ने आज वज़ीर आज़म मनमोहन सिंह पर तन्क़ीद की जिन्हों ने रीटेल शोबा में रास्त बैरूनी सरमाया की इजाज़त देने का फैसला किया है। मिस्टर ठाकरे ने कहा कि जब वज़ीर आज़म इस मसले पर अपनी एक देरीना हलीफ़ ममता बनर्जी को मुतमइन नहीं करसके हैं तो वो मलिक के अवाम को किस तरह मुतमइन करेंगे।

मिस्टर ठाकरे ने कहा कि 21 सितंबर को वज़ीर आज़म मनमोहन सिंह ने जो क़ौम से ख़िताब किया था वो इंतिहाई मुज़हका ख़ेज़ था और उन्हों ने इंतिहाई बेशरमी से रीटेल शोबा में रास्त बैरूनी सरमाया कारी और डीज़ल की क़ीमतों में इज़ाफ़ा की मुदाफ़अत की है। उन्हों ने सवाल किया कि एक उसे वज़ीर आज़म जो रीटेल में बैरूनी सरमाया कारी के मसले पर अपनी एक देरीना हलीफ़ ममता बनर्जी को मुतमइन करने में कामयाब नहीं होसके वो मुल्क के अवाम को किस तरह से मुतमइन कर‌पाएंगे।

पार्टी तर्जुमान सामना में एक ईदारिया में बाल ठाकरे कहा कि वज़ीर आज़म ने क़ौम से जो ख़िताब किया है वो मज़हका ख़ेज़ था उस की कोई मिसाल नहीं मिल सकती। इस से पहलॆ हिंदूस्तान की तारीख में इस तरह की मुज़हका ख़ेज़ कोई तक़रीर नहीं मिल सकती। मनमोहन सिंह के इस रेमार्क पर कि पैसा दरख़्तों पर नहीं उगता ठाकरे ने सवाल किया कि क्या पैसे कोयला की कान से आता है चारा ( अस्क़ाम ) यह बोफोर्स ( स्कैंडल ) से आता है ?।

TOPPOPULARRECENT