Tuesday , August 22 2017
Home / Khaas Khabar / वरुण गांधी का उत्तर प्रदेश का सीएम बनने का सपना टुटा , मोदी ने दी नसीहत

वरुण गांधी का उत्तर प्रदेश का सीएम बनने का सपना टुटा , मोदी ने दी नसीहत

सुल्तानपुर के सांसद और बीजेपी के गांधी यानी वरुण गांधी का उत्तर प्रदेश का सीएम बनने का सपना चकनाचूर हो गया है। बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शामिल होने पहुंचे संगम नगरी में मोदी ने साफ़ कर दिया है कि वरुण गांधी उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री का चेहरा नहीं बनेगें। मोदी वरुण गांधी की ओर से चलायी जा रही मुहीम से नाराज हैं। बीते दिनों मोदी के इशारे पर ही वरुण गांधी पर सुल्तानपुर में प्रतिबन्ध लगाया गया था। यही वजह थी कि कार्यकारिणी की बैठक में एक तरफ मोदी ने स्पष्ट कहा कि पार्टी में अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। उनका इशारा संगम नगरी में वरुण की तरफ से कराये गए पोस्टरवार पर था। मोदी वरुण गांधी से इस कदर नाराज हुए कि संगम नगरी के तट पर रैली के दौरान न तो वरुण गांधी को मंच पर स्थान मिला और न तो उन्होंने मोदी ने वरुण के नाम का जिक्र किया। मोदी की तीखी नजरों का आभास वरुण गांधी को भी था इसलिए वह कोपभाजन से बचने के लिए बैठक के दौरान सबसे पीछे बैठे रहे। मीडिया से भी बात करने स इनकार कर दिया था। आलम यह था की रैली स्थल पर भी वरुण समर्थक खामोश रहे। संगम से निकलेगा उत्तर प्रदेश का सीएम बीजेपी ने उत्तर प्रदेश के लिए ष्टरू 3द्मड्ड चेहरा तैयार कर लिया है। सूत्रों के अनुसार देश को प्रधानमंत्री गंगा ने दिया तो संगम नगरी से उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री निकलेगा। जातीय समीकरणों को ध्यान में रखते हुए पार्टी अपने प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य पर दांव खेलेगी। गाजीपुर के जंगीपुर चुनाव में मौर्य बंधुओं के वोट का ध्रवीकरण बीजेपी के पक्ष में हुआ, केशव को इस परीक्षा में पास कर दिया है। एक तरफ राजभर समाज का साथ दूसरी तरफ अपना दल की सांसद अनुप्रिया पटेल के जरिये पटेल वोटबैंक को खीचने की तैयारी बीजेपी ने कर रखी है। यही वजह थी की वरुण को तो मोदी के साथ मंच साझा करने का अवसर नहीं मिला लेकिन अनुप्रिया पटेल को मोदी की कुर्सी के ठीक पीछे स्थान मिला।

TOPPOPULARRECENT