Monday , October 23 2017
Home / Crime / वाइस प्रिंसिपल के ख़िलाफ़ जिन्सी हरासानी के इल्ज़ामात की तहकीकात का हुक्म

वाइस प्रिंसिपल के ख़िलाफ़ जिन्सी हरासानी के इल्ज़ामात की तहकीकात का हुक्म

दिल्ली हाईकोर्ट ने इस इंक़्वायरी रिपोर्ट को मुस्तर्द ( रद्द) करते हुए जिस की बुनियाद पर रामजस कालेज के वाइस प्रिंसिपल बी एन राय को तालिब-ए-इल्म लड़कों को जिन्सी तौर पर हरासाँ करने के इल्ज़ाम के तहत बरतरफ़ ( निकाल देना/ बर्खास्त) कर दिय

दिल्ली हाईकोर्ट ने इस इंक़्वायरी रिपोर्ट को मुस्तर्द ( रद्द) करते हुए जिस की बुनियाद पर रामजस कालेज के वाइस प्रिंसिपल बी एन राय को तालिब-ए-इल्म लड़कों को जिन्सी तौर पर हरासाँ करने के इल्ज़ाम के तहत बरतरफ़ ( निकाल देना/ बर्खास्त) कर दिया गया था, इल्ज़ामात की अज़सर नौ छानबीन करने का हुक्म जारी किया है।

जस्टिस बी डी अहमद और वी के जैन पर मुश्तमिल ( शामिल) एक बंच ने दिल्ली यूनीवर्सिटी के नॉर्थ कैंपस में वाक़े ( मौजूद/ स्थित) कालेज को हिदायत दी कि बी एन राय के ख़िलाफ़ इल्ज़ामात की ताज़ा छानबीन कराई जाए और उन्हें गवाहों से ज़िरह करने की इजाज़त दी जाए और इस तरह अगले छः माह के अंदर अदालत में रिपोर्ट दाख़िल की जाए।

बी एन राय पर 2007 में कालेज के तालिब-ए-इल्म लड़कों को जिन्सी तौर पर हरासाँ करने का इल्ज़ाम लगाया गया था। तालिब-ए-इल्मों ( विद्यार्थीयों) ने शिकायत दर्ज कराने के बाद उन की क्लासों का बाईकॉट करना शुरू कर दिया था।

TOPPOPULARRECENT