Tuesday , October 24 2017
Home / Hyderabad News / वाई एस आर कांग्रेस-ओ-टी आर एस में बक़ा(वजूद) की जंग

वाई एस आर कांग्रेस-ओ-टी आर एस में बक़ा(वजूद) की जंग

कांग्रेस मुक़न्निना पार्टी ने वाई ऐस आर कांग्रेस और टी आर एस पर अपनी जमातों के सरबराहों के फ़रज़न्दों को बचाने और मुस्तहकम करने सिरिसिल्ला हंगामा बरपा करके ग़रीब अवाम को बली का बकरा बनाने का इल्ज़ाम आइदकिया और पुलिस के ओवर ऐक्श

कांग्रेस मुक़न्निना पार्टी ने वाई ऐस आर कांग्रेस और टी आर एस पर अपनी जमातों के सरबराहों के फ़रज़न्दों को बचाने और मुस्तहकम करने सिरिसिल्ला हंगामा बरपा करके ग़रीब अवाम को बली का बकरा बनाने का इल्ज़ाम आइदकिया और पुलिस के ओवर ऐक्शण की मुज़म्मत की। मीडीया से बातचीत करते हुए गर्वनमैंट विहिप अनील कुमार ने कहा कि सिरिसिल्ला में दोनों जमातों ने एक दूसरे को नीचा दिखाने अवाम के आराम को हराम किया है।

वाई ऐस आर कांग्रेस की विजय माँ ने अपने फ़र्ज़ंद(बेटे) जगन को बेक़सूर साबित करने और बाफ़ंदों के बहाने तेलंगाना में अपनी पार्टी के दाख़िला को यक़ीनी बनाने डेढ़ दो घंटे का जल्सा-ए-आम मुनाक़िद किया। इस जलसा में बाफ़ंदों और मुक़ामी अवाम को जमा करने की बजाय दीगर मुक़ामात से लोगों को इकट्ठा किया गया । दूसरी तरफ़ सिरिसिल्ला सरबराह टी आर एस के चन्द्र शेखर राव के फ़र्ज़ंद(बेटे) के टी आर का हलक़ा है। अपने फ़र्ज़ंद(बेटे) के वजूद को मनवाने सरबराह टी आर एस ने सारी ताक़त झोंक दी।

ताज्जुब इस बात पर है कि टी आर एस ने किसानों के मसाइल पर जगन मोहन रेड्डी को आरमोर में तीन दिन धरना मुनज़्ज़म करने की इजाज़त दी, लेकिन वजया अम्मां की जानिब से बाफ़ंदों के मसाइल पर सिरिसिल्ला में एहतिजाज पर एतराज़ किया। दोनों जमातों के आपसी टकराव से ग़रीब अवाम का नुक़्सान हुआ। पुलिस ने पुरअमन एहतिजाज करने वाले अवाम पर आँसू गैस के शैल बरसाने के इलावा लाठी चार्ज किया।

गर्वनमैंट विहिप ने मिसिज़ वजया अम्मां को तेलंगाना पर पार्टी का मौक़िफ़ पेश करने के बाद आइन्दा इलाक़ा तेलंगाना का दौरा का मश्वरा दिया। विजयवाड़ा के कांग्रेस एम पी राज गोपाल की जानिब से परनब मुकर्जी के बारे में अलहदा तेलंगाना और छोटी रियास्तों केमुख़ालिफ़ होने के दावा को मुस्तर्द करते हुए कहा कि हाईकमान तेलंगाना के हक़ में है, 9 दिसंबर का फ़ैसला इस बात का सबूत है। लगड़ा पाटी राज गोपाल को अपनी हद में रहते हुए किसी भी मसला पर इज़हार ख़्याल करना चाहीए। तेलंगाना अवाम के जज़बात को ठेस पहुंचाने पर तेलंगाना के अवामी नुमाइंदे ख़ामोश नहीं बैठेंगे।

TOPPOPULARRECENT