Thursday , October 19 2017
Home / Hyderabad News / वाई ऐस आर को बदनाम करने पर विजय‌ अम्मां के ब्यान की ताईद

वाई ऐस आर को बदनाम करने पर विजय‌ अम्मां के ब्यान की ताईद

हैदराबाद ।२८ अगस्त : ( सियासत न्यूज़ ) : कांग्रेस के सीनईर रुकन असैंबली साबिक़वज़ीर डाक्टर शंकर राव‌ ने कहा कि वो वाई ऐस आर कांग्रेस पार्टी की एज़ाज़ी सदर मिसिज़ वजए अम्मां की इस बात से पूरी तरह इत्तिफ़ाक़ करते हैं कि अगर डाक्टर राज

हैदराबाद ।२८ अगस्त : ( सियासत न्यूज़ ) : कांग्रेस के सीनईर रुकन असैंबली साबिक़वज़ीर डाक्टर शंकर राव‌ ने कहा कि वो वाई ऐस आर कांग्रेस पार्टी की एज़ाज़ी सदर मिसिज़ वजए अम्मां की इस बात से पूरी तरह इत्तिफ़ाक़ करते हैं कि अगर डाक्टर राज शेखर रेड्डी रहते तो कोई भी वज़ीर उन से नज़र मिला कर बात करने के मौक़िफ़ में नहीं रहते ।वुज़रा अपनी ग़लतीयों को अज़ीम क़ाइद पर थोप कर ज़िम्मेदारीयों से राह फ़रार इख़तियार करने की कोशिश कर रहे हैं ।

आज असैंबली के अहाते में मीडीया से बातचीत करते हुए डाक्टर शंकर राव‌ ने रियास्ती वुज़रा को सख़्त तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कहा कि जो भी मुतनाज़ा जी औज़ जारी हुए हैं उन पर मुताल्लिक़ा वुज़रा ने दस्तख़त किए हैं ये जी औज़ जब वुज़रा के जान पर बन आए हैं तो इस से छुटकारा हासिल करने के लिए वुज़रादुनिया में मौजूद ना रहने वाले राज शेखर रेड्डी को ज़िम्मेदार क़रार देते हुए अपने आप को और अवाम दोनों को ज़िम्मेदार क़रार दे रहे हैं । मरने वाले के ख़िलाफ़ झूटे इल्ज़ामातआइद करने और तन्क़ीद करने वालों को भगवान भी माफ़ नहीं करता ।

राज शेखर रेड्डी और जगन मोहन रेड्डी को बद उनवान क़रार देते हुए उन के ख़िलाफ़ तहरीक चलाने वाले डाक्टर शंकर राव‌ ने आज अपना मौक़िफ़ तबदील करते हुए वजए अम्मां के ब्यान की ताईदकरते हुए रियास्ती वुज़रा पर अपनी भड़ास निकालते हुए कहा कि हालिया मुनाक़िदा असैंबली-ओ-पार्लीमैंट के ज़िमनी इंतिख़ाबात में राज शेखर रेड्डी को तन्क़ीद का निशाना बनाने पर ही कांग्रेस पार्टी को शिकस्त से दो-चार होना पड़ा था नताइज बरामद होने के बाद भी वुज़रा और कांग्रेस पार्टी ने इस का अभी मुहासिबा नहीं किया है । उन्हों ने कहा कि कांग्रेस हुकूमत अवामी नब्ज़ को समझने और उन के मसाइल हल करने में नाकाम हो गई है ।

जिस से हुकूमत और पार्टी के ख़िलाफ़ अवाम के जज़बात भड़कना फ़ित्री अमल है । अभी भी वक़्त है दागदार वुज़रा अख़लाक़ी ज़िम्मेदारी क़बूल करते हुए वज़ारतों से मुस्ताफ़ी हो कर हुकूमत और पार्टी की नेकनामी मुतास्सिर होने से बचाएं ।।

TOPPOPULARRECENT