Saturday , August 19 2017
Home / Khaas Khabar / वादों से मुस्लमानों के हालात नहीं बदल सकते:ज़ाहिद अली ख़ान

वादों से मुस्लमानों के हालात नहीं बदल सकते:ज़ाहिद अली ख़ान

हैदराबाद 06 अक्टूबर: ज़बानी हमदर्दी से अब मुस्लमानों को कोई दिलचस्पी नही वादें से मुस्लमानों के हालात बदलने वाले नहीं। इन ख़्यालात का इज़हार ज़ाहिद अली ख़ान एडीटर सियासत ने किया। उन्होंने अज़ला नलगेंडा महबूबनगर और वर्ंगल के वफ़ूद का ख़ौरमक़दम किया जो 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़्फुज़ात तहरीक के सिलसिले में सियासत के दफ़्तर पहुंचे थे।

ज़ाहिद अली ख़ान जो 12 फ़ीसद , तहरीक के सरपरस्त आला हैं उन्होंने वफ़ूद की मुस्लिम काज़ के लिए दिलचस्पी पर उन्हें मुबारकबाद पेश की। इस मौके पर आमिर अली ख़ान न्यूज़ एडीटर सियासत भी मौजूद थे जो 12 फ़ीसद मुस्लिम तहफ़ज़ात सियासत की तहरीक की क़ियादत कर रहे हैं।

इन वफ़ूद पर ज़ाहिद अली ख़ान ने ज़ोर देते हुए कहा कि वो बी सी कमीशन के क़ियाम के मुतालिबे में शिद्दत पैदा करें। उन्होंने चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना के चन्द्रशेखर राव‌ को एक संजीदा क़ाइद क़रार दिया और कहा कि उन्हें अपना वादा जो मुस्लमानों से किया था इस पर फ़ौरी अमल आवरी का इक़दाम करें।

उन्होंने चीफ़ मिनिस्टर को मश्ववेरह दिया कि वो अगर एसा करते हैं तो तेलंगाना का मुस्लमान तेलंगाना राष़्ट्रा समीती के हक़ में अपने वोट का इस्तेमाल करेगा। उन्होंने कहा कि हर कोई मुस्लिम हमदर्दी की बात करता है और मुस्लिम दोस्त का दम भरते हुए नारा लगाता है उन्हें चाहीए कि वो मुस्लमानों से हमदर्दी के तामीरी काम अंजाम दें।

उन्होंने वफ़ूद से कहा कि वो जारीया असेंबली मीटिंग का बग़ौर मुशाहिदा करें चूँकि जारीया हफ़्ते असेंबली की मीटिंग ख़त्म हो जाएगीगा और इस दौरान मुस्लमानों को मुस्लमानों के हमदर्दों की शिनाख़्त हो जाएगीगी जो एवान में मुस्लिम मसाइल से संजीदा नहीं और मुस्लमानों के हक़ में आवाज़ बुलंद नहीं करसकता वो हक़ीक़ी हमदरद तसव्वुर नहीं किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि एवान में बी सी कमीशन को क़ायम करने के लिए हुकूमत पर दबाओ डाला जाये और हुकूमत से वाज़िह यकीन् के अलावा अमली इक़दाम किया जाये।

TOPPOPULARRECENT