Wednesday , July 26 2017
Home / Sports / विजय हजारे ट्रॉफी : झारखंड की हार के बाद धोनी ने खोया आपा

विजय हजारे ट्रॉफी : झारखंड की हार के बाद धोनी ने खोया आपा

दिल्ली : ‘कैप्टन कूल’ के नाम से मशहूर भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी का विजय हजारे ट्रॉफी में झारखंड की हार के बाद अलग रूप देखने को मिला। धौनी का ये अंदाज टीम के सभी खिलाड़ियों के लिए किसी झटके से कम नहीं था। धौनी ने लिस्ट ए में 75वां अर्धशतक जमाया, लेकिन टीम को सेमीफाइनल में जीत नहीं दिला सके।

झारखंड के एक खिलाड़ी ने मैच के बाद कहा, ‘हम मैच जीतकर विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचना चाहते थे और यह माही भाई की इच्छा थी। खिलाड़ी ने कहा, खराब फील्डिंग और गेंदबाजी में नियमितता की कमी के चलते बंगाल ने 330 का स्कोर खड़ा कर दिया। धोनी भाई इससे खुश नहीं थे और पहली बार मैंने उन्हें उदास देखा। धौनी भाई से आप उनका शांत स्वभाव खोने की उम्मीद नहीं कर सकते।’

बंगाल ने खिलाड़ियों अभिमन्यु ईस्वरन और श्रीवत्स गोस्वामी के शतकों की बदौलत झारखंड के सामने 331 रनों का विशाल लक्ष्य रखा था। धौनी इससे नाराज और निराश थे।
झारखंड के लिए नियमित अच्छा प्रदर्शन करने वाले ईशांक जग्गी के साथ मिलकर तेजी से 97 रन जोड़े, लेकिन धौनी के आउट होने के बाद झारखंड की टीम को हार का मुंह देखना पड़ा।

TOPPOPULARRECENT