Wednesday , August 23 2017
Home / India / विडियो: जब बीजेपी नेता मीनाक्षी लेखी ने कहा था नोट बंद हुआ तो ग़रीब हो जाएगा और ग़रीब

विडियो: जब बीजेपी नेता मीनाक्षी लेखी ने कहा था नोट बंद हुआ तो ग़रीब हो जाएगा और ग़रीब

8 नवंबर की देर रात प्रधानमंत्री नरेंद्रमोदी ने 500 और 1000 के नोट को कागज का टुकड़ा करार दिया था। मोदी सरकार की इस फैसले की विपक्ष चौतरफा आलोचना कर रहा है। विपक्ष की आलोचना को सरकार ये कह कर नकार रही है कि देशहित में लिये गये फैसले की आलोचना करना ही उनका काम है। लेकिन कुछ साल पहले ठीक ऐसा देशहित के खिलाफ काम सत्तासीन बीजेपी भी वैसे ही कर रही थी जैसे आज विपक्ष।

2014 के जनवरी महीने में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने घोषणा की थी कि 2005 से पहले जारी किए सभी नोट बंद किए जाएंगे। तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह इसकी घोषणा के लिए टेलीविजन पर नहीं आए थे क्योंकि नोटों की वापसी अगले तीन महीनों में सुनियोजित तरीके से की जानी थी। उस वक्त बीजेपी प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने उस निर्णय को एक गिमिक करार दिया था और कहा था कि यह विदेशी खातों में जमा काले धन के मुद्दे की तरफ से ध्यान हटाने की एक कोशिश है। सोशल मीडिया में मिनाक्षी लेखी का पूराना वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।

केजरीवाल ने ट्वीट कर मिनाक्षी लेखी के वीडियो को शेयर किया, जिसके बाद मिनाक्षी लेखी ने केजरीवाल के ट्वीट को रिट्वीट किया।लेखी ने वीडियो में कहा था कि “वास्तव में जिनके पास काला धन है, वे उसे नए नोटों से बदल लेंगे। पीड़ित आम औरतें और आम आदमी है, जो अनपढ़ हैं और उनके पास बैंकिंग सुविधा सुलभ नहीं है। जिन्होंने कुछ पैसे बचा कर रखे हैं, और उनके पास कोई बैंक खाता नहीं है, उनके जीवन की कमाई निशाने पर होगी।”

मीनाक्षी लेखी तब वही तर्क दे रही थी, जो आज विपक्ष दे रहा है। तथ्य ये भी है कि सरकार के अचानक लिये गये फैसले देश रुक सा भी गया है लेकिन सरकार इस फैसले देशहित का लबादा ओढ़ाकर देश फैली अव्यवस्था को दरकिनार कर रही है।

TOPPOPULARRECENT