Thursday , October 19 2017
Home / Khaas Khabar / वित्त मंत्रालय ने बैंकों के 500 शाखाओं का कराया स्टिंग ऑपरेशन, कालेधन को सफेद करने में लगे थे बैंक!

वित्त मंत्रालय ने बैंकों के 500 शाखाओं का कराया स्टिंग ऑपरेशन, कालेधन को सफेद करने में लगे थे बैंक!

दिल्ली : लगातार बैंकों पर उठ रही ऊंगली के बीच खबर आ रही है कि वित्त मंत्रालय ने देशभर के बैंकों के करीब 500 शाखाओं का स्टिंग ऑपरेशन करवाया है। ताकि वहां हो रही गड़बडि़यों का खुलासा हो सके। सरकार के पास इस स्टिंग की करीब 400 सीडी पहुंच गई है। नोटबंदी के बाद देश में नये नोटों की जमाखोरी के मामले उजागर होने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिशा-निर्देश में सरकार ने यह काम करवाया है. इसके बाद यह कयास लगाया जा रहा है कि नये नोटों की जमाखोरी में शामिल बैंक अफसरों पर गाज गिर सकती है. सरकार द्वारा कराये गये इस स्टिंग ऑपरेशन की सीडी वित्त मंत्रालय को भेज दिया गया है. इससे अब जुगाड़ तंत्र सहारे मोटे कमीशन लेकर नोटों के जमाखोरों को अफसरों पर सख्त कार्रवाई कर सकती है.

द फाइनेंशियल एक्सप्रेस में खबर प्रकाशित की गयी है कि मोदी सरकार ने देश के करीब 500 बैंक शाखाओं का स्टिंग ऑपरेशन कराया है. अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया गया है कि इन बैंक शाखाओं में कराये गये स्टिंग ऑपरेशन की सीडी वित्त मंत्रालय को भेज दिया गया है, ताकि सही समय पर इन बैंक शाखाओं के भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सके.

वित्त मंत्रालय ने जिन बैंकों का स्टिंग करवाया है उसमें निजी और सरकारी दोनों बैंक की शाखाएं हैं। सरकार की ओर से स्टिंग का फैसला नोटबंदी के बाद लगतार पकड़े जा रहे नए नोटों के बाद लिया गया है। इन सीडी में बैंकों में पुलिस-दलाल और प्रभावशाली लोगों कैसे धन बदला जा रहा है इसके सुबूत रिकार्ड किए गए हैं। इनमें महानगरों के साथ-साथ कुछ छोटे शहरों की निजी और सरकारी बैंकें शामिल हैं।

हाल ही में गुजरात के डीसा में हुई रैली में पीएम मोदी ने बैंकों में गड़बड़ी करने वालों को चेताया था। उन्होंने साफ शब्दों में कहा था कि बैंकों में की जा रही धंधली पर सरकार की नजर है। रैली में पीएम मोदी ने कहा था कि इन्हें लग रहा है कि पिछले दरवाजे से गड़बड़ी कर लेंगे, लेकिन इन्हें पता नहीं कि मोदी ने पिछले दरवाजे पर भी कैमरे लगाए हुए हैं। पीएम ने डीसा रैली में बैक कर्मियों को चेताते हुए कहा था कि गडबड़ी करने वाले बैंककर्मी सरकार की नजरों से नहीं बच सकते हैं। आपको बता दे कि पिछले 20 दिनों में 200 करोड़ रुपये आसपास की नकदी जब्त की जा चुकी है।

TOPPOPULARRECENT