Wednesday , August 23 2017
Home / Delhi / Mumbai / वैश्विक स्तर पर सोने की मांग में 18 प्रतिशत कमी

वैश्विक स्तर पर सोने की मांग में 18 प्रतिशत कमी

मुंबई: वैश्विक स्तर पर सोने की मांग वर्ष 2017 की पहली तिमाही के दौरान 18 प्रतिशत 1,034 टन तक की कमी हुई है। वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के मुताबिक एक्सचेंज ट्रेड फंड में कम प्रवाह और सेंट्रल बैंक मांग में कमी इसका मुख्य कारण हैं। परिषद ने सोने की मांग के बारे में ताजा रिपोर्ट में बताया कि वर्ष 2016 की पहली तिमाही में सोने की मांग 1262 टन थी।

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल मैनेजिंग डायरेक्टर सोमसुंदरम ने बताया कि सोने के बिस्कुट और सिक्कों की मांग स्थिर रही और इसमें 9 प्रतिशत की वृद्धि हुई। यह निवेश 290 टन तक थी जबकि ज्वैलरी और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में मांग भी स्थिर रही। खुदरा निवेश विभाग में भी 9 प्रतिशत तक वृद्धि हुई।

रिपोर्ट के मुताबिक कुल अध्यक्षता 12 प्रतिशत की कमी आई और पहले तिमाही में यह 1032 टन रही जबकि पिछले साल इस अवधि में यह 1175 टन थी। भारत में पहले तिमाही के दौरान सोने की मांग 15 प्रतिशत की वृद्धि हुई और यह 123.5 टन रही जो उद्योग के संबंध में सकारात्मक उम्मीदें की जा सकती हैं।

सोमसुंदरम के मुताबिक रुपये की क़दर में गिरावट डॉलर की दर में वृद्धि भी मांग में वृद्धि की मुख्य कारणों रहें। इस दौरान सोने की कीमत में आज जो सप्ताह सबसे अधिक गिरावट आई और 29 हजार से नीचे चली गई। सर्राफा मार्किट में प्रति तोला सोने की कीमत 28,880 रुपये रही।

TOPPOPULARRECENT