Saturday , October 21 2017
Home / Hyderabad News / वैस्ट ज़ोन आर टी ओ की उर्दू ज़बान से ग़ैरमामूली दिलचस्पी

वैस्ट ज़ोन आर टी ओ की उर्दू ज़बान से ग़ैरमामूली दिलचस्पी

हैदराबाद ।०८अप्रैल (सियासत न्यूज़) उर्दू ज़बान यक़ीनन किसी तारीफ़ की मुहताज नहीं। ये अपने आप में ख़ुद एक तारीफ़ ही। ये किसी के दिल में जगह कर जाय तो इस केनताइज समाज पर असरअंदाज़ होते हैं। महिकमा रोड ट्रांसपोर्ट अथॉरीटी में मौजूद

हैदराबाद ।०८अप्रैल (सियासत न्यूज़) उर्दू ज़बान यक़ीनन किसी तारीफ़ की मुहताज नहीं। ये अपने आप में ख़ुद एक तारीफ़ ही। ये किसी के दिल में जगह कर जाय तो इस केनताइज समाज पर असरअंदाज़ होते हैं। महिकमा रोड ट्रांसपोर्ट अथॉरीटी में मौजूदा एक ओहदेदार को देखने से इस का अंदाज़ा लगाया जा सकता हैं।

इस ओहदेदार की उर्दू से मुहब्बत उर्दू दां तबक़ा केलिए फ़ायदेमंद साबित होरही है जो अपने ओहदे पर रहते हुए अपनी ज़िम्मेदारीयों को उर्दू के ज़रीया उर्दू दां तबक़ा तक फ़राहम करने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं। जी हाँ हम बात कर रहे हैं वैस्ट ज़ोन आर टी ओ मिस्टर मानक प्रभु की जो उर्दूज़बान की चाशनी और नफ़ासत से बेपनाह मुतास्सिर ही। इन को उर्दू से मुहब्बत ने उन्हें उर्दू दां तबक़ा से क़रीब कर दिया और उर्दू के ज़रीया ख़िदमत का इन में जज़बा पैदा होगया। उर्दू ज़बान में तासीर ही कुछ ऐसी है कि एक बार उर्दू से मुहब्बत होजाए तो वो उर्दू का हो ही जाता हैं। मिस्टर मानक प्रभु से बात करने पर उन्हों ने बताया कि वो ना सिर्फ महिकमा जाती सतह पर उर्दू को पसंद करते हैं बल्कि उर्दू के ज़रीया उर्दू दां तबक़ा की ख़िदमात अंजाम दे रहे हैं।

उन्हों ने बतायाकि वैस्ट ज़ोन आर टी ओ ऑफ़िस के हदूद में आर टी ए ऑफ़िस से रुजू होने वालों में अक्सरीयत उर्दू दां तबक़ा की है और उन्हों ने इसइलाक़ा की नौईयत और अवामी मिज़ाज को देख कर उर्दू के ज़रीया उन की रहनुमाई का फ़ैसला किया और ड्राइविंग लाईसैंस के हुसूल में जिन शराइत और जो इमतिहान देना पड़ता है इस के लिए उर्दू के ज़रीया रहनुमाई की जा रही ही। उन्हों ने इमतिहानी शराइत और ज़रूरी मवाद को उर्दू में समाअत करने का इंतिज़ाम करवाया और अब उर्दू में मवाद और सी डी की तैय्यारी का काम जारी ही। इन ऑनलाइन सवालात से क़बल उर्दू सी डी के ज़रीया दरख़ास्त गुज़ारों की रहनुमाई की जा रही है ताकि जब वो कम्पयूटर पर सवालातका जवाब दें तो उन्हें आसानी हो।

बिलख़सूस आटो ड्राईवरस के लिए लाईसैंस के हुसूल में आसानी होरही है और ऐसा निज़ाम सिर्फ़ वैस्ट ज़ोन आर टी ए में ही मौजूद ही। मिस्टर मानक प्रभु ने कहा कि वो चाहते हैं कि अवाम लाईसैंस आर सी रजिस्ट्रेशन या फिर आर टी ए से मुताल्लिक़ कोई भी काम हो उन से रास्त राबिता पैदा करें और दरमयानी अफ़राद के हाथों धोका दही का शिकार ना हो।

उन्हों ने कहा कि ऐसे अफ़राद जो लाईसैंस हासिल करना चाहते हैं ये और उम्र के सदाक़त नामा के साथ अपने तालीमी सर्टीफ़िकेट लेकर रास्ततौर पर इन से मुलाक़ात करें। उन्हों ने तलबा उन के वालदैन और सरपरस्तों से दरख़ास्त की कि वो पहले पहल अपने बच्चों के लिए लाईसैंस हासिल करलीं और आसान-ओ-हिफ़ाज़त के साथ सफ़र के लिए उन की रहनुमाई करें।

उन्हों ने बताया कि इन से रास्त तौर पर दौरान दफ़्तर मुलाक़ात की जा सकती है और 11 ता 5 बजे फ़ोन पर रब्त किया जा सकता हैं। मिस्टर मानक प्रभु का ताल्लुक़ हैदराबाद से है और वो गज़ीटीड एसोसीएशन‌ के सदर भी रह चुके हैं।

इस के इलावा इस का एसटी आर्गेनाईज़ेशन के सदर भी मानक प्रभु सेरास्त या फ़ोन नंबर 9948989874 पर राब्ता करें।

TOPPOPULARRECENT