Monday , October 23 2017
Home / India / वज़ीर-ए-आज़म के दौरा मुज़फ़्फ़रनगर पर आज़म ख़ान की तन्क़ीद

वज़ीर-ए-आज़म के दौरा मुज़फ़्फ़रनगर पर आज़म ख़ान की तन्क़ीद

समाजवादी पार्टी के सीनियर लीडर और रियास्ती वज़ीर मुहम्मद आज़म ख़ान ने मुज़फ़्फ़रनगर के फ़सादज़दा इलाक़ों का दौरा करने पर आज वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह को अपनी शदीद तन्क़ीद का निशाना बनाया।

समाजवादी पार्टी के सीनियर लीडर और रियास्ती वज़ीर मुहम्मद आज़म ख़ान ने मुज़फ़्फ़रनगर के फ़सादज़दा इलाक़ों का दौरा करने पर आज वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह को अपनी शदीद तन्क़ीद का निशाना बनाया।

आज़म ख़ान ने अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह मुज़फ़्फ़रनगर गए थे ये तो अच्छा है एलेक्शन क़रीब हैं और उन्हें ऐसा करना चाहिए था। उन्होंने मज़ीद कहा कि वज़ीर-ए-आज़म को दीगर इलाक़ों जैसे फ़ैज़ाबाद, मथुरा और बरेली का भी दौरा करना चाहिए था जहां माज़ी में फ़सादाद हुए हैं। आज़म ख़ान ने इल्ज़ाम आइद किया कि फ़स्ताई ताक़तों ने सेकूलरज्म की ढाल में ये फ़सादाद भड़काए हैं।

उन्होंने कहा कि जो कुछ भी हुआ वो बुरा हुआ हम उस की मुज़म्मत करते हैं। साज़िशियों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी। उन्हों ने बाज़ अख़बारात में शाय शूदा इन खबर‌ की तरदीद की कि रियास्ती हुकूमत ने मुज़फ़्फ़रनगर में फ़सादियों के ख़िलाफ़ आइद करदा क़ौमी सलामती एक्ट से दस्तबरदारी का फ़ैसला किया है।

एक बी जे पी रुक्न एसेंबली की गिरफ़्तारी और फ़सादाद के ज़िमन में उन के ख़िलाफ़ एफ़ आई आर दर्ज किए जाने से मुताल्लिक़ सवाल पर आज़म ख़ान ने जवाब दिया कि ऐवान में गिरफ़्तारी नहीं की जा सकती लेकिन ये बात भी तय है कि कोई भी क़ानून से बालातर नहीं है। ग़ालिबन यही एहसास था जिस के ज़रिया फ़सादाद पर कंट्रोल किया गया।

TOPPOPULARRECENT