Saturday , October 21 2017
Home / Crime / शंकर रमन क़त्ल 6 सितंबर को आइन्दा सुन्वाई

शंकर रमन क़त्ल 6 सितंबर को आइन्दा सुन्वाई

एक मुक़ामी अदालत ने शंकर रमन क़त्ल केस की आइन्दा समाअत केलिए 6 सितंबर की तारीख मुक़र्रर की है

एक मुक़ामी अदालत ने शंकर रमन क़त्ल केस की आइन्दा समाअत केलिए 6 सितंबर की तारीख मुक़र्रर की है

इस में कांची शंकर आचार्य जेन्दर सरस्वती और उनके मुआविन विजेंदर कलीदी मुल्ज़िमीन हैं। प्रिंसिपल डिस्ट्रिक्ट-ओ-सेशन जज सी एस मोरो गण ने हिदायत की कि आइन्दा समाअत के दौरान तमाम 23 मुल्ज़िमीन का अदालत में पेश होना लाज़िमी होगा।

कल‌ समाअत के दौरान सिर्फ़ 13 मुल्ज़िमीन ही अदालत में मौजूद थे जिन में मुंदरजा बाला दोनों कलीदी मुल्ज़िमीन भी शामिल हैं। याद रहे कि मक़्तूल शंकर रमन जो तामिलनाडो के कांची पोरम में वाके वरदा राजा पेरूमल मंदिर के म‌निजर थे, का 3 सितंबर 2004 को मंदिर में ही क़त्ल करदिया गया था।

इसके बाद‌ ख़ुसूसी पब्लिक प्रासीक्यूटर इन देवडूस ने अदालत के बाहर अख़बारी नुमाइंदों से बात करते हुए कहा कि आज समाअत का रोक दिया जाना ज़रूरी था कियों कि फेडरेशन आफ़ एडवोकेटस इन तामिलनाडो एनड पडोचेरी ने 5 जुलाई को सेलम में एक वकील के क़त्ल के ख़िलाफ़ अदालतों के बाईकॉट का फैसला किया था।

TOPPOPULARRECENT