Thursday , September 21 2017
Home / India / शक के आधार पर मुस्लिम युवकों की गिरफ़्तारी ग़लत ,पुलिस पर होनी चाहिए कार्रवाई : सुधीर आयोग

शक के आधार पर मुस्लिम युवकों की गिरफ़्तारी ग़लत ,पुलिस पर होनी चाहिए कार्रवाई : सुधीर आयोग

हैदराबाद: सुधीर जांच आयोग ने सरकार से सिफारिश की है कि हैदराबाद में सांप्रदायिक सद्भाव सुनिश्चित करने के लिए केवल संदेह के आधार पर मुस्लिम युवकों की गिरफ्तारी नहीं की जानी चाहिए | मुस्लिम समुदाय के सामाजिक, शैक्षिक और आर्थिक पिछड़ेपन की जांच के लिए गठित किये गये सुधीर जांच आयोग ने इस साल अगस्त में सरकार को पेश की गयी अपनी रिपोर्ट में ये बात कही है |

आयोग ने अपनी रिपोर्ट में मुस्लिम समुदाय के उत्थान के लिए कई सिफारिशें की हैं | मुसलमानों के लिए नौकरियों में समान अवसर सुनिश्चित करने की सिफारिश भी आयोग द्वारा की गयी है | अल्पसंख्यकों के लिए लागू की गयीं विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की निगरानी भी आयोग को सौंपी गयी है |
सुधीर आयोग ने इस बात को स्वीकार किया है कि 80% से अधिक मुसलमान शैक्षिक और आर्थिक रूप से पिछड़े हुए हैं | आयोग ने अपनी रिपोर्ट में उर्दू माध्यम के स्कूलों की  ख़राब हालत  का भी ज़िक्र किया है | सरकार से सिफारिश की है उर्दू माध्यम के छात्रों को अंग्रेजी भी एक विषय के तौर पर सिखाई जाए | उन्होंने सुझाव दिया है कि उर्दू माध्यम स्कूलों के अंतर्गत आने वाली नौकरियों को आरक्षित अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजातियों अल्पसंख्यक उम्मीदवारों के माध्यम से भरा जाना चाहिए |

सुधीर आयोग द्वारा सरकार को दिए गये सुझावों में सबसे महत्वपूर्ण, बजट में उप-योजना के माध्यम से अल्पसंख्यकों के लिए पर्याप्त धन आवंटित किया जाना है| सरकार से कहा गया है कि बजट को पूरी तरह से जारी किया जाए इसे अन्य योजनाओं में नहीं लगाया जाए | फीस अदायगी और स्कालरशिप की व्यवस्था को भी बेहतर बनाने की ज़रुरत है | आयोग ने कहा कि  दीनी मदरसों में विज्ञान, गणित और अंग्रेजी विषयों को भी आधुनिक शिक्षा के तौर पर पढाया जाए | अखिल भारतीय प्रशासनिक सेवाएँ,  आईएएस, आईपीएस और आईएफएस में अधिकारियों की कमी को दूर करने के लिए लोवर कैडर के अधिकारियों को प्रोमोशन देने का सुझाव दिया गया है | अल्पसंख्यक कल्याण विभाग को मजबूत बनाने के साथ विभिन्न विभागों के चयन समितियों में एक मुस्लिम सदस्य को मनोनीत करने की सिफारिश भी की गयी है |

TOPPOPULARRECENT