Sunday , September 24 2017
Home / India / शराब कांड के मृतकों की संख्या 15 तक पहुंच गई

शराब कांड के मृतकों की संख्या 15 तक पहुंच गई

गोपालगंज: बिहार के जिले गोपालगंज में कथित जहरीली शराब से प्रभावित तीन लोगों की मौत के साथ ही इस घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 15 हो गई है .डिस्ट्रिक‌ मजिस्ट्रेट राहुल कुमार ने आज यहां बताया कि शहर थाना क्षेत्र के हरखो खजूरबाड़िय गांव में 15 अगस्त की रात कथित जहरीली शराब पीने की वजह से कल रात तक 13 लोगों की मौत हो गई थी।

उन्होंने बताया कि इस घटना में बीमार दो लोगों की आज पटना मेडिकल अस्पताल में मौत होने की सूचना मिली है .मसटर कुमार ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि जिले के सभी थाना प्रभारी को शराब बनाने और बेचने वालों के खिलाफ सख्त अभियान चलाने का निर्देश दिया गया है। इस बीच राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने बिहार के गोपालगंज की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए कहा कि राज्य सरकार को इसे गंभीरता से लेना चाहिए कि शराब पर प्रतिबंध के बावजूद इस तरह की घटना कैसे पेश आया.मसतर यादव ने आज यहां दस सर्कुलर रोड पर स्थित अपने सरकारी आवास पर रक्षाबंधन के अवसर पर पीपल के पेड़ को राखी बांधने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मौके से होम्योपैथिक दवा की बोतलें मिली हीं.आर जे डी के अध्यक्ष ने कहा कि राज्य सरकार को इस घटना को गंभीरता से लेना चाहिए

शराब पर प्रतिबंध के बावजूद ऐसी घटना घटी यह एक गंभीर मामला है। उन्होंने कहा कि गोपालगंज उत्तर प्रदेश से सटे जिले है और इस मामले में एक्साइज विभाग आबकारी की ओर से जारी बयान और दिए गए स्पष्टीकरण से वह भी परिचित है| मसटर यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री को इस मामले की जांच सख्ती से करवानी चाहिए। हालांकि उन्होंने कहा कि इस घटना के बाद पुलिस और प्रशासन के अधिकारी अलर्ट पर हैं।

उन्होंने कहा कि शराब में मिलावट करने का मास्टरमाइंड एक महीने पहले ही जेल से छूटकर आया है| आर जे डी अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री की ओर से मुआवजा दिए जाने की घोषणा को सही बताया और कहा कि लोगों को सावधान और जागरूक रहना चाहिए बिहार दूसरे राज्यों से घिरे द्वीप की तरह है और शराब पर प्रतिबंध जगह जगह जांच संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि थानों की पुलिस दस करोड़ लोगों के पीछे नहीं घूम सकती|

मसटर यादव ने कहा कि शराबबंदी के संबंध में जागरूकता आवश्यक है और मीडिया इसमें महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने कहा कि गोपालगनज घटना की पूरी जांच किए बिना वह कुछ नहीं कह सकते। महत्वपूर्ण आरोपी को पकड़ में आना चाहिए जिसके बाद ही मिलावट का राज खुलेगा।

TOPPOPULARRECENT