Wednesday , October 18 2017
Home / Hyderabad News / शादी के नाम पर क़र्ज़ और सूद की लानत से छुटकारा ज़रूरी

शादी के नाम पर क़र्ज़ और सूद की लानत से छुटकारा ज़रूरी

शादीयों में एक खाना एक मीठा की मुहिम का इफ़्तिताही इजलासे आम एक मार्च बरोज़ इतवार मस्जिद हुसैनी विजय नगर कॉलोनी रूबरू मले पल्ली आई टी आई गिल्ड सुबह 10.30 बजे जनाब ज़ाहिद अली ख़ान ऐडीटर सियासत की ज़ेरे सरपरस्ती और जनाब मुहम्मद मुश्ताक़ म

शादीयों में एक खाना एक मीठा की मुहिम का इफ़्तिताही इजलासे आम एक मार्च बरोज़ इतवार मस्जिद हुसैनी विजय नगर कॉलोनी रूबरू मले पल्ली आई टी आई गिल्ड सुबह 10.30 बजे जनाब ज़ाहिद अली ख़ान ऐडीटर सियासत की ज़ेरे सरपरस्ती और जनाब मुहम्मद मुश्ताक़ मलिक सदर तहरीक मुस्लिम शबान की निगरानी में मुनाक़िद होगा।

शादीयों में बेजा इसराफ़, लहोलाब, ग़ैर वाजिबी रसूमात, जोड़े घोड़े, नाच गाना, वलीमों में आरकेस्ट्रा पार्टीयां सब ग़ैर इस्लामी ही नहीं अल्लाह की नाराज़गी का बाइस हैं।

तहरीके मुस्लिम शबान की शादीयों में एक खाना एक मीठा की आर्गेनाईज़िंग कमेटी के बयान के बामूजिब मिल्लते इस्लामीया इसराफ़ की इन शादीयों की वजह से चंद को छोड़कर भारी कर्ज़ों, सूद की लानत में मुलव्विस हो रही हैं जिस की वजह से मुसलमानों की कमज़ोर मईशत मज़ीद बर्बादी का शिकार हो रही है।

शादीयों में एक खाना एक मीठा की मुहिम को शहर हैदराबाद ही नहीं बल्कि अज़ला में भी इस का ख़ैर मक़दम किया जा रहा है। एक खाना एक मीठा कमेटी के बामूजिब शहर हैदराबाद की ताहाल 250 मसाजिद से रास्त रब्त पैदा किया गया है और सभी ने इस मुहिम के लिए तआवुन और जुमा को अपनी मसाजिद में ख़ुतबा से इत्तिफ़ाक़ किया है।

TOPPOPULARRECENT