Wednesday , August 23 2017
Home / World / शामी बोहरान का सियासी हल बात-चीत से मुम्किन है – चीनी वज़ीरे आज़म

शामी बोहरान का सियासी हल बात-चीत से मुम्किन है – चीनी वज़ीरे आज़म

चीनी वज़ीरे आज़म ली कीचयांग ने जुमेरात को चीन के दौरे पर आई हुई जर्मन चांसलर एंजिला मीरकल के साथ बातचीत में शाम के बोहरान से मुताल्लिक़ चीनी मौक़िफ़ को धराते हुए उस के सियासी हिल पर ज़ोर दिया। आज जुमेरात को जर्मन चांसलर एंजिला मीरकल बीजिंग पहुंचीं तो उनका इस्तिक़बाल चीनी वज़ीरे आज़म ने किया।

दोनों रहनुमाओं की इस मुलाक़ात में चीन और जर्मनी के माबैन दो तर्फा तिजारती ताल्लुक़ात के फ़रोग़ के इलावा अरब रियासत शाम की ख़ाना जंगी के मौज़ू पर भी बातचीत हुई।

चीन हमेशा से शाम के तनाज़े के हल के लिए ताक़त के इस्तेमाल की मुख़ालिफ़त करता रहा है। बीजिंग हुक्काम का देरीना मौक़िफ़ ये है कि शाम के तनाज़े का सियासी हल तलाश किया जाना चाहिए।

गुज़िश्ता माह रूस ने शाम में सदर बशारुल असद के ख़िलाफ़ बरसरे पैकार बाग़ीयों पर फ़िज़ाई हमले शुरू कर दिए जिसके बाद से शाम की सूरते हाल मज़ीद पेचीदा और संगीन हो गई है।

शाम की ख़ानाजंगी में अमरीकी इत्तिहादियों और रूसी फ़िज़ाई हमलों से इस बोहरान ने इलाक़ाई तनाज़े की जगह बैनुल अक़वामी शक्ल अख़तियार कर ली है। रूस की शाम में मुदाख़िलत को मग़रिबी ताक़तों की तरफ़ से शदीद तन्क़ीद का सामना है। मग़रिबी दुनिया का कहना है कि रूस के इस इक़दाम से शाम के सदर बशारुल असद के हाथ मज़बूत हो रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT