Sunday , October 22 2017
Home / Islami Duniya / शाम में कीमीयाई हथियार के इस्तेमाल का अमेरीकी इल्ज़ाम ग़लत साबित हो गया

शाम में कीमीयाई हथियार के इस्तेमाल का अमेरीकी इल्ज़ाम ग़लत साबित हो गया

शाम में कीमीयाई अहथियार के इस्तेमाल के बारे में अमेरीकी दावा को ख़ुद अमेरीका के एक मोतबर ख़बररसां इदारा ने ग़लत और बे बुनियाद साबित कर दिया है और कहा कि बाद तहक़ीक़ पता चला है कि अमेरीका जिस शए को शाम में इस्तेमाल की गई कीमीयाई गैस क़रार

शाम में कीमीयाई अहथियार के इस्तेमाल के बारे में अमेरीकी दावा को ख़ुद अमेरीका के एक मोतबर ख़बररसां इदारा ने ग़लत और बे बुनियाद साबित कर दिया है और कहा कि बाद तहक़ीक़ पता चला है कि अमेरीका जिस शए को शाम में इस्तेमाल की गई कीमीयाई गैस क़रार दे रहा है वो दरअसल सोडियम फ्लोराईड है जो अमेरीका में पानी की सरबराही के लिए रोज़मर्रा इस्तेमाल की जाती है ।

इलावा अज़ीं ये कीमीयाई गैस (सोडियम फ्लोराईड) अमेरीका में वॉलमार्ट के हर आउट लुट पर फ़रोख्त की जाती है और हर किसी के लिए आसानी से दस्तयाब है। इस तरह शाम में कीमीयाई हथियार से मुताल्लिक़ वाइट हाउ सके दावे अफ़्वाह और झूटी इत्तेला के सिवा कुछ नहीं हैं।

अमेरीकी ख़बररसां इदारा ने कहा कि बर्तानवी रोज़नामा दी इंडीपेंडेंट ने ये ख़बर दी थी कि बर्तानवी हुकूमत ने ही अपने मुल्क की एक कंपनी को आसाबी गैस बनाने के कीमीयाई अनासिर शाम को बरामद करने की इजाज़त दी थी । ये इल्ज़ाम भी आइद किया गया था कि (बर्तानवी) हुकूमत ने तहदेदात हथियार के मुआमला में बदतरीन लापरवाही की है लेकिन हक़ीक़त ये है कि ये दो कीमीयाई माद्दे सोडियम फ्लोराईड और पोटैशियम फ्लोराईड हैं जिसका वाज़िह इन्किशाफ़ ख़ुद दी इंडिपें‍डेंट के ब्रेकिंग न्यूज़ की शहि सुर्ख़ी से हो जाता है जिस में नाम निहाद आसाबी गैस के अलफ़ाज़ बयान किए गए हैं जबकि सुर्ख़ी के तहत सोडियम फ्लोराईड और पोटैशियम फ्लोराईड के तौर पर बयान किया गया। बर्तानवी रोज़नामा ने ये ख़बर भी दी थी कि शाम को एक साल क़ब्ल ऐसे दो कीमीयाई माद्दे बरामद किए गए थे जो सीरियन जैसी आसाबी गैस बनाने में इस्तेमाल की जा सकती हैं।

लेकिन अमेरीकी ख़बररसां इदारे ने इंडीपेंडेंट के इस दावे को ग़लत साबित करते हुए कहा कि ये दो कीमीयाई माद्दे दरअसल सोडियम फ्लोराईड और पोटैशियम फ्लोराईड हैं जो अमेरीका में पानी की सरबराही के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। नीज़ वॉलमार्ट पर ब आसानी दस्तयाब हैं। इस रिपोर्ट की बुनियाद पर शाम पर कीमीयाई अस्लाह के इस्तेमाल का इल्ज़ाम आइद करते हुए फ़ौजी कार्रवाई की कोशिश सरासर हट धर्मी और नाइंसाफ़ी के मुतरादिफ़ होगी।

TOPPOPULARRECENT