Saturday , October 21 2017
Home / Islami Duniya / शाम में तशद्दुद नाक़ाबिल-ए-क़बूल , बैन की मून

शाम में तशद्दुद नाक़ाबिल-ए-क़बूल , बैन की मून

अक़वाम-ए-मुत्तहिदा के सेक्रेटरी जनरल बैन की मून ने कहा कि वो शुमाली शाम के शहर अलीपो में स्कियोरटी फ़ोर्सेज़ पर कार बम धमाकों की मुज़म्मत करते हैं। अलीपो में जुमा को सयान्ती चौकीयों पर होने वाले दो खुदकुश कार बम हमलों में कम अज़ कम अट

अक़वाम-ए-मुत्तहिदा के सेक्रेटरी जनरल बैन की मून ने कहा कि वो शुमाली शाम के शहर अलीपो में स्कियोरटी फ़ोर्सेज़ पर कार बम धमाकों की मुज़म्मत करते हैं। अलीपो में जुमा को सयान्ती चौकीयों पर होने वाले दो खुदकुश कार बम हमलों में कम अज़ कम अट्ठाईस अफ़राद हलाक और दो सौ पैंतीस ज़ख़मी हो गए थे।

एक ब्यान में उन के तर्जुमान ने कहा कि बेन मुतास्सिरीन के ग़मज़दा ख़ानदानों के साथ शाम की हुकूमत और अवाम से भी से हमदर्दी और ताज़ियत का इज़हार करते हैं। सेक्रेटरी जनरल ने इस अज़म का इआदा किया कि तशद्दुद नाक़ाबिल-ए-क़बूल है और तमाम अतराफ़ को फ़ौरी तौर पर उस को रोक देना चाहिए।

खुदकुश कार बम हमलों से क़बल शहर एहतिजाज और फ़ौजी कार्यवाईयों से मुतास्सिर रहा है जिस में ग्यारह महीनों के दौरान शाम में छः हज़ार से ज़ाइद अफ़राद हलाक हो चुके हैं। बेन ने अपने इस मज़बूत मौक़िफ़ का एक बार फिर इआदा किया कि शाम के बोहरान का हल सिर्फ़ जामि पुर अमन सयासी तसफ़ीया से ही निकाला जा सकता है जिस में शामी अवाम की जमहूरी ख़ाहिशात, उन के इंसानी हुक़ूक़ और बुनियादी आज़ादीयों का मुकम्मल एहतिराम यक़ीनी बनाया गया हो।

शाम ने धमाकों का इल्ज़ाम दहश्तगरदों पर आइद किया है जिन्हें इस के बाक़ौल अरब और मग़रिबी ममालिक की हिमायत हासिल है। इस इल्ज़ाम पर मबनी मकतूब अक़वाम-ए-मुत्तहिदा सलामती कौंसल अरब लीग और दीगर तंज़ीमों को रवाना किया गया है।

TOPPOPULARRECENT