Sunday , October 22 2017
Home / Islami Duniya / शाम में फ़ौज की अंधा धुंद फायरिंग140 हलाक

शाम में फ़ौज की अंधा धुंद फायरिंग140 हलाक

दमिशक़ । /31 अगस्त ( एजैंसीज़) शाम में माह मार्च में शुरू हुई मुख़ालिफ़ अवाम एहतिजाज आज उस वक़्त बदतरीन तशद्दुद की शक्ल इख़तियार कर गया जब फ़ौज ने तक़रीबन 140 अफ़राद को हलाक करदिया । मौसूला इत्तिलाआत के मुताबिक़ सिपाही बकतरबंद गाड़ीयों और टैंकस के साथ शहर हुमा में घुस पड़े जहां तक़रीबन 95 अफ़राद हलाक होगए । फ़ौज ने पहले इस शहर का मुहासिरा करलिया था । यहां गुज़श्ता एक माह से सदर बशरालासद के ख़िलाफ़ ज़बरदस्त एहितजाजी मुज़ाहिरे होरहे थे । एक डाक्टर ने बताया कि फ़ौज टैंकस के ज़रीया चारों सिम्त हमले कररही है । यहां के अवाम ने सड़कों पर जो रुकावटें खड़ी की थी उन्हें रौंदते हुए टैंकस को शहरी इलाक़ों में घुसा दिया गया और बिलाइशतेआल फायरिंग का सिलसिला जारी है । एक शख़्स ने बताया कि सड़कों पर हर तरफ़ नाशें पड़ी हुई हैं लेकिन इन का कोई पुर्साने हाल नहीं । महलोकीन की तादाद में इज़ाफ़ा का अंदेशा ज़ाहिर किया गया है । सदर अमरीका बारक ओबामा ने इस क़दर बड़े पैमाने पर अवामी हलाकतों को इंतिहाई वहशतनाक क़रार दिया है । उन्हों ने कहा कि सदर बशरालासद ने एक बार फिर ये साबित करदिया है कि वो शाम के अवाम की जायज़ शिकायात का अज़ाला करने के अहल नहीं । ओबामा ने कहा कि सदर शाम बशरालासद को यक्का-ओ-तन्हा करने केलिए आलमी सतह पर अमरीकी कोशिशें जारी रहेगी । बर्तानिया के वज़ीर-ए-ख़ारजा विलियम हेग ने भी हलाकतों पर गहिरी तशवीश का इज़हार किया । उन्हों ने कहा कि पुरअमन एहतिजाज करने वाले आम शहरीयों के ख़िलाफ़ इस तरह की कार्रवाई मुंसिफ़ाना नहीं होसकती । बशरालासद इस ग़लतफ़हमी का शिकार हैं कि फ़ौजी ताक़त के ज़रीया मुल्क में जारी बोहरान को ख़तन किया जा सकता है । उन्हों ने कहा कि अवाम पर हमलों का ये सिलसिला फ़ौरी रोका जाना चाहीए । इस दौरान शाम के दीगर हिस्सों में जारी मुख़ालिफ़ हुकूमत एहितजाजी मुज़ाहिरों के दौरान हुई झड़पों में तक़रीबन 30 अफ़राद हलाक होने की इत्तिला है ।

TOPPOPULARRECENT