Wednesday , October 18 2017
Home / World / शाम में 10.8 मिलियन शहरियों को फौरी इमदाद की ज़रूरत

शाम में 10.8 मिलियन शहरियों को फौरी इमदाद की ज़रूरत

शाम में आज जिन अफ़राद को इंसानी बुनियाद पर आजलाना इमदाद की ज़रूरत है उन की तादाद हैरत अंगेज़ तौर पर बढ़ कर 10.8 मिलियन हो गई है जो शाम की आबादी यानी 22 मिलियन की निस्फ़ है। अक़वामे मुत्तहिदा के सेक्रेट्री जेनरल बान्की मून ने ये बात बताई।

शाम में आज जिन अफ़राद को इंसानी बुनियाद पर आजलाना इमदाद की ज़रूरत है उन की तादाद हैरत अंगेज़ तौर पर बढ़ कर 10.8 मिलियन हो गई है जो शाम की आबादी यानी 22 मिलियन की निस्फ़ है। अक़वामे मुत्तहिदा के सेक्रेट्री जेनरल बान्की मून ने ये बात बताई।

अक़वामे मुत्तहिदा की सलामती कौंसिल को अपनी माहाना रिपोर्ट पेश करते हुए उन्हों ने कहा कि शाम के 4.7 मिलियन शहरी ऐसे इलाक़ों में हैं जहां इंसानी बुनियादों पर ख़िदमात अंजाम देने वाले वर्कर्स की रसाई या तो नामुमकिन है यह बहुत मुश्किल है जबकि गुज़िश्ता में यही तादाद 3.5 मिलियन अफ़राद पर मुश्तमिल थी।

उन्हों ने कहा कि इराक़ के मौजूदा हालात को देखते हुए शाम के हालात मज़ीद बिगड़ने के अंदेशे पैदा हो गए हैं।

TOPPOPULARRECENT