Sunday , September 24 2017
Home / Islami Duniya / शाम: हलब में बाग़ी, सरकारी फ़ोर्सेस से बरसरे पैकार

शाम: हलब में बाग़ी, सरकारी फ़ोर्सेस से बरसरे पैकार

वाइस ऑफ़ अमरीका से इंटरव्यू में एक दर्जन से ज़ाइद कमांडरों ने तस्लीम किया कि रूस की मुदाख़िलत से शुमाली शाम में साहिली सूबे लाज़क़ीह से लेकर हमाह, अदलब और हलब सूबों तक जंग की सूरते हाल यक्सर तबदील हो गई है।

शाम में हलब के जुनूब में वाक़े देहाती इलाक़ों में शामी फ़ौज और बाग़ीयों के दरमयान जंग जारी है। दिन में रूसी जंगी जहाज़ फ़िज़ाई कार्यवाहीयां करते हैं और फिर ज़मीनी फ़ौज पेशरफ़्त करती है और बाग़ीयों को भागने पर मजबूर कर देती है, मगर रात में फ़िज़ाई कार्यवाईयों की ग़ैर मौजूदगी में पस्पा हुए बाग़ी दोबारा इन इलाक़ों में घुस जाते हैं।

अगले दिन फिर फ़िज़ाई कार्यवाईयों का सिलसिला शुरू हो जाता है और रात में बाग़ी फिर से आरिज़ी दिफ़ाई मोर्चे सँभाल लेते हैं। अमरीकी हिमायत याफ़्ता अहफ़द उमर बटालियन के कमांडर अबदुर्र रहमान का कहना है कि इस इलाक़े में दो साल में पहली मर्तबा इतनी बड़ी ज़मीनी कार्रवाई की गई है।

TOPPOPULARRECENT