Wednesday , October 18 2017
Home / World / शाम ख़ानाजंगी, सियासी हल के मवाक़े मौजूद – आलमी इदारा

शाम ख़ानाजंगी, सियासी हल के मवाक़े मौजूद – आलमी इदारा

शाम के मसअले पर क़ायम अक़वामे मुत्तहिदा की तहक़ीक़ाती कमीशन के सरब्राह पाउलो पेन हीरो ने कहा है कि इस मुल्क में जारी चार साला ख़ानाजंगी के ख़ातमे के सियासी हल के मवाक़े मौजूद हैं। लेकिन, ये मुल्क एक तल्ख़ और जान लेवा तात्तुल का शिका

शाम के मसअले पर क़ायम अक़वामे मुत्तहिदा की तहक़ीक़ाती कमीशन के सरब्राह पाउलो पेन हीरो ने कहा है कि इस मुल्क में जारी चार साला ख़ानाजंगी के ख़ातमे के सियासी हल के मवाक़े मौजूद हैं। लेकिन, ये मुल्क एक तल्ख़ और जान लेवा तात्तुल का शिकार है।

गार्जियन में तहरीर कर्दा एक मज़मून में उन्हों ने अपने ख़्यालात का इज़हार करते हुए तनाज़े में इंसानी अलमीया का ज़िक्र किया है, जिस के नतीजे में 40 लाख पनाह गुज़ीन जान बचा कर मुल्क से निकल गए हैं, जबकि 76 लाख अफ़राद अपने ही मुल्क में बेघर हो गए हैं और इस जंग के नतीजे में स्कूल और अस्पताल तबाह हो चुके हैं।

सन 2011 में बशारुल असद हुकूमत के ख़िलाफ़ शुरू होने वाला पुरअमन एहतेजाज बाग़ीयों, हुकूमत और दाइश के मुसल्लह जंगजूओं के दरमयान ख़ानाजंगी में तबदील हो चुका है। ये तमाम ग्रुप ख़ित्ते पर क़ब्ज़ा के लिए जंग कर रहे हैं, जिस के नतीजे में अब तक 220000 से ज़ाइद लोग हलाक हो चुके हैं।

TOPPOPULARRECENT