Tuesday , October 24 2017
Home / India / शीला को मिला वफादारी का इनाम, अब होंगी केरल की गवर्नर

शीला को मिला वफादारी का इनाम, अब होंगी केरल की गवर्नर

दिल्ली की साबिक सीएम शीला दीक्षित को केरल का गवर्नर बनाया जा रहा है। खुद दीक्षित ने ऐसी फहरिस्त की तस्दीक करने से फौरी तौर पर इन्कार किया लेकिन कांग्रेस हाईकमान ने हरी झंडी दे दी है और उनकी तकर्रुरी की नोटीफिकेशन किसी भी वक्त जारी

दिल्ली की साबिक सीएम शीला दीक्षित को केरल का गवर्नर बनाया जा रहा है। खुद दीक्षित ने ऐसी फहरिस्त की तस्दीक करने से फौरी तौर पर इन्कार किया लेकिन कांग्रेस हाईकमान ने हरी झंडी दे दी है और उनकी तकर्रुरी की नोटीफिकेशन किसी भी वक्त जारी की जा सकती है। अगर ऐसा हुआ तो यह तय है कि दिल्ली की कांग्रेसी सियासत एक नई करवट लेगी।

सूबे में मुसलसल 15 सालों तक कांग्रेस की हुकूमत चलाने वाली दीक्षित को गवर्नर के ओहदा की जिम्मेदारी दिया जाना इस बात का इशारा है कि अब सरगर्म सियासत में उनका किरदार खत्म हो जाएगा। लेकिन सियासी पंडितों का यह भी मानना है कि कांग्रेस हाईकमान ने इक्तेदार से बाहर हो चुकी शीला को राजभवन पहुंचाकर उन्हें उनकी पार्टी की तरफ से वफादारी का इनाम दिया है।

गवर्नर के नए किरदार को लेकर पूछने पर दीक्षित ने कहा कि उन्हें अब तक इस बारे में कोई अफीशियली इत्तेला सूचना नहीं मिली है। लिहाजा, वह इस बारे में कोई जवाब भी नहीं देना चाहेंगी।

केरल के गवर्नर निखिल कुमार ने अपने ओहदा से इस्तीफा दे दिया है। उनके बिहार के औरंगाबाद पार्लीमानी इलाका से कांग्रेस के टिकट पर इलेक्शन लड़ने के इम्कान जताए जा रहे है। उन्हीं की जगह पर दीक्षित को नया गवर्नर बनाया जा रहा है।

कर्नाटक के गवर्नर हंसराज भारद्वाज को नए गवर्नर का ओहदा संभालने तक के लिए इजाफी जिम्मेदारी दी गई है। वहीं, उत्तर प्रदेश के गवर्नर बीएल जोशी को दूसरी मर्तबा गवर्नर बनाया गया है।

ज़राये ने बताया कि लोकसभा इलेक्शन की नोटीफिकेशन बुध के रोज़ को जारी कर दिए जाने के आसार हैं, लिहाजा दीक्षित की तकर्रुरी से मुताल्लिक सरकारी नोटिफिकेशन मंगल देर रात तक ही जारी कर दिए जाने की उम्मीद है।

TOPPOPULARRECENT