Friday , March 24 2017
Home / Khaas Khabar / शैक्षणिक अनियमितता मामले में AMU वीसी के खिलाफ बन सकती जांच कमेटी

शैक्षणिक अनियमितता मामले में AMU वीसी के खिलाफ बन सकती जांच कमेटी

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के वीसी जमीरुद्दीन शाह के खिलाफ प्रशासनिक और शैक्षणिक अनियमितता मामले में जल्द ही जांच कमेटी बनाई सकती है। बताया जा रहा है कि जमीरूद्दीन शाह ने इस मामले में राष्ट्रपति को जो जवाब भेजा था उससे मंत्रालय संतुष्ट नहीं है।

इंडियन एक्सप्रेस ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि 17 अक्टूबर 2016 को मानव संसाधन विकास मंत्राल मंत्री प्रकाश जावड़ेकर की सलाह के बाद राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने शाह को नोटिस दिया था। शाह से पूछा गया था कि उनके खिलाफ जांच कमेटी क्यों न बैठाई जाए।

शाह पर आरोप है कि उन्होंने गैर-कानूनी तरीके से फंड ट्रांसफर किया है। उन पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने सर सय्यद अहमद एजुकेशनल फाउंडेशन नाम के प्राइवेट ट्रस्ट में जमा पैसों का दुरुपयोग किया। इसके अलावा उन पर एक रिटायर्ड ब्रिगेडियर को प्रो वीसी पद पर नियुक्त करने का भी आरोप है, जो कि यूजीसी की गाइडलाइन का अनुरूप सही नहीं है। यूजीसी की गाइडलाइन के हिसाब से किसी प्रोफेसर को ही इस पद पर नियुक्त किया जा सकता है।

दरअसल, जमीरूद्दीन शाह के खिलाफ एचआरडी मंत्रालय में वसीम अहमद नाम के एक व्यक्ति ने इस मामले में शिकायत की थी। इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि शाह ने जो जवाब दिया है उससे मंत्रालय संतुष्ट नहीं है इसलिए मंत्रालय ने राष्ट्रपति से इस मामले की पूरी जांच कराने की मांग की है। हालांकि इस मांग पर एचआरडी मंत्री प्रकाश जावड़ेकर की प्रतिक्रिया अभी नहीं आई है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT