Tuesday , October 17 2017
Home / Khaas Khabar / शॉकिंग: ‘लखनऊ हॉस्पिटल’ में पांच घंटे किया मुर्दे का इलाज

शॉकिंग: ‘लखनऊ हॉस्पिटल’ में पांच घंटे किया मुर्दे का इलाज

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के एक अस्पताल जिसका नाम “लखनऊ हॉस्पिटल” है ने इंसानियत की सारी हदें तोड़ते हुए सिर्फ़ पैसों के लालच में एक मुर्दे का इलाज करते रहे. प्राइवेट अस्पतालों ने मुल्क में जिस तरह से पैसों की लूट मचाई उसका ये नमूना ही है.

शादमा, जो 42 साल की थीं का अभी कुछ रोज़ पहले पैर फ्रैक्चर हो गया था, उनके पैर का इलाज बलरामपुर अस्पताल में चल रहा था, जो एक सरकारी अस्पताल है..वहीँ उनके तीमारदारों की मुलाक़ात लखनऊ हॉस्पिटल के दलाल से हुई, अच्छी-मीठी बातें करके और फ़ौरन इलाज का दावा करके उसने उनको लखनऊ हॉस्पिटल में शिफ्ट हो जाने के लिए राज़ी कर लिया. इसके बाद जुमेरात को उनके ऑपरेशन का नाटक किया गया, इसके बाद कहा गया कि मरीज़ को वेंटीलेटर की सख्त ज़ुरूरत है और उसे डालीगंज अस्पताल भेज दिया गया, डालीगंज अस्पताल में भी दो घंटे तक इलाज का नाटक होता रहा.इसके बाद मरीज़ को फिर लखनऊ हॉस्पिटल भेज दिया गया जहां कुछ डेढ़ घंटे बाद मरीज़ की हालत को बहुत नाज़ुक बताते हुए ट्रामा सेंटर ले जाने को कहा. ट्रामा सेंटर में जांच करते ही उन्होंने बताया कि इनकी मौत तो काफ़ी देर पहले ही हो चुकी है.डॉक्टरों ने वहाँ बताया कि तक़रीबन पांच घंटे पहले इनकी मौत हो चुकी है. औरत के ख़ानदान से इलाज के नाम पर एक लाख रूपये वसूले गए.
वैसे लखनऊ हॉस्पिटल कोई एक लौटा ऐसा अस्पताल नहीं हैं, और भी कई अस्पताल हैं जो इस तरह की घिनौनी हरकतें करके अपनी दुकान चला रहे हैं, ज़िंदा लोगों को पहले मारते हैं और फिर उन्ही का इलाज करते हैं.

TOPPOPULARRECENT