Sunday , August 20 2017
Home / International / संयुक्त राष्ट्र में पहली बार बलूचिस्तान पर बोला भारत

संयुक्त राष्ट्र में पहली बार बलूचिस्तान पर बोला भारत

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 33वें सत्र के दौरान पाकिस्तान पर हमला बोलते हुए भारत ने कहा कि कश्मीर में हालात बिगड़ने का मुख्य कारण सीमा पार आतंक है, जिसे पाकिस्तान द्वारा लगातार आयातित किया जा रहा है। जेनेवा स्थित संयुक्त राष्ट्र में भारत के राजदूत और स्थायी प्रतिनिधि अजीत कुमार ने कहा कि पाकिस्तान के करतूतों को कई देश जानते हैं और वे लगातार पाकिस्तान से सीमा पर घुसपैठ को रोकने के लिए कह रहे हैं ताकि आतंकवाद के बुनियादी ढांचे को खत्म किया जा सके।

पाकिस्तान आतंकवाद का केंद्र है और उसे अपने यहां से आतंकवाद के जड़ को खत्म करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि भारत शांतिपूर्ण, लोकतांत्रिक, बहुलतावादी समाज के रूप में लोगों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। दूसरी ओर पाकिस्तान में अधिनायकवाद है, लोकतांत्रिक मानदंडों का अभाव है और बलूचिस्तान समेत पूरे देश में बृहत पैमाने पर मानवाधिकारों का उल्लंघन होता है।

TOPPOPULARRECENT