Saturday , September 23 2017
Home / Delhi / Mumbai / संवैधानिक बेंच आधार से संबंधित समस्याओं का फैसला करेगी सुप्रीम कोर्ट

संवैधानिक बेंच आधार से संबंधित समस्याओं का फैसला करेगी सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने आज कहा कि आधार से संबंधित सभी मुद्दों की एकाग्रता सुप्रीम कोर्ट संवैधानिक बेंच करेगी। न्यायमूर्ति जी चलमीशोर की अध्यक्षता एक तीन सदस्यीय बेंच का गठन किया गया है और पक्षों से इच्छा की गई है कि आधार से संबंधित सभी मुद्दों की एकाग्रता के लिए इस संवैधानिक बेंच से उल्लेख हो।न्यायमूर्ति एएम खानवेलकर, न्यायमूर्ति नवीन सिन्हा इस बेंच में शामिल हैं।

चीफ जस्टिस ने यह व्यापक बेंच आधार से संबंधित सभी मुद्दों की एकाग्रता के लिए आए है। अटॉर्नी जनरल के वेनुगोपाल और वरिष्ठ वकील श्याम दीवान आवेदकों का पालन कर रहे हैं। उनका कहना है कि वह मामले को चीफ जस्टिस के सामने पेश करेंगे और उनसे अनुरोध करेंगे कि आधार से संबंधित सभी मुद्दों की संवैधानिक पीठ सुनवाई करे।

छुट्टियों के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने 27 जून को एक छुट्टियों वाली बेंच की स्थापना की थी जिसने केंद्र के घोषणा के खिलाफ अंतरिम आदेश जारी करने से इनकार कर दिया था, जबकि सरकार ने आधार कार्ड सामाजिक कल्याणकारी योजनाओं से लाभ उठाने के लिए अनिवार्य बताया था और यकीन दिया था कि पहचान के अभाव की वजह से किसी भी कल्याणकारी योजनाओं से वंचित नहीं किया जाएगा।

अदालत ने कहा था कि अंतरिम आदेश केवल अंदेशों आधारित जो आवेदकों ने दिखाया है, जारी नहीं किया जा सकता। सुप्रीम कोर्ट 3 अलग अनुरोध की सुनवाई कर रही थी जिसमें सरकार के आधार कार्ड विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से लाभ उठाने के लिए अनिवार्य करार देने को चुनौती दी गई थी।

पहले सुप्रीम कोर्ट ने कई आदेश जारी करते हुए सरकार और उसके विभागों से इच्छा थी कि आधार कार्ड कल्याणकारी योजनाओं से लाभ उठाने के लिए आवश्यक न ठहराया जाए बल्कि उसे रज़ाकराना रखा जाए। कल्याणकारी योजनाओं जैसे एलपीजी की छूट, जनधन योजना और सार्वजनिक वितरण प्रणाली आदि को सरकार की कल्याणकारी योजनाओं में शामिल किया गया था।

TOPPOPULARRECENT