Tuesday , August 22 2017
Home / Bihar News / सड़क हादसे के बाद दो तबके भिड़े, थाना इंचार्ज समेत दो की मौत

सड़क हादसे के बाद दो तबके भिड़े, थाना इंचार्ज समेत दो की मौत

पटना : बिहार में हाजीपुर के लालगंज में सड़क हादसे के बाद बुध को फसाद भड़क गई। इस मामले में आमने-सामने हुए दो तबकों को पुरअमन कराने पहुंची पुलिस पर भी लोगों ने हमला कर दिया। इसमें लोकल थाना इंचार्ज अजीत कुमार की मौत हो गई। तशद्दुद में अब तक दो लोग मारे गए हैं। पुलिस ने तशद्दुद रोकने के लिए सौ से ज्यादा बार फायरिंग की है। हालांकि, हालात अभी भी काबू से बाहर हैं। बताया जा रहा है कि गांव में पुलिस वाले नहीं जा पा रहे हैं।

पुलिस ने मुजरिम ड्राइव को अरेस्ट नहीं किया। इसलिए भीड़ ने मुल्ज़िम वैन ड्राइवर समेत कई लोगों के घरों में आग लगा दी। इत्तिला मिलने पर पास के चौकी इंचार्ज अजीत कुमार फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। जब भीड़ पर काबू पाना चाहा तो तनाज़ा हो गया। पुलिस पर एक तरफा कार्रवाई का इल्ज़ाम लगाते हुए भीड़ ने चौकी इंचार्ज पर हमला बोल दिया। उन्हें लाठी डंडे से पीट पीटकर जख्मी कर दिया। जहां पीएमसीएच में ले जाते वक्त उनकी मौत हो गई। हालांकि पुलिस ने ड्राइवर को गिरफ्तार करने का दावा किया है। जैसे ही पुलिस को चौकी इंचार्ज की मौत की इत्तिला मिली। पुलिस माैके पर पहुंच गई, लेकिन भीड़ ने हमला बोल लिया। पुलिस की फायरिंग में एक बच्चे की मौत हो गई।

पुलिस फिलहाल लालगंज थाना में कैंप कर रही है। पुलिस फायरिंग में अभी तक 8 लोग जख्मी हुए हैं। इसमें तीन पुलिस भी शामिल हैं। काशीदगी को देखते हुए आसपास के थाने की पुलिस को भी बुला लिया गया है। सीनियर अफसर मौके पर कैंप कर रहे हैं। आईजी पारसनाथ ने कहा कि हालत अभी कंट्रोल में है।

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने वाकिया के मुजरिमों पर कार्रवाई करने की हिदायत दिए हैं। चीफ़ सेक्रेटरी अंजनी कुमार सिंह व पुलिस डाइरेक्टर पीके ठाकुर के साथ सीएम ने हालात की जायजा ली। वजीरे आला ने पूरे इलाक़े में लोगों से अमन बनाए रखने की अपील की है। वाकिया के चलते बुध को सीएम ने अपना रांची दौरा भी मंसूख कर दिया। वाकिया की जांच की जिम्मेदारी आईजी हेडक्वार्टर सुनील कुमार व जेल आईजी प्रेम सिंह मीणा को सौंपी गई है। सीएम ने मरने वालों के अहले खना को 4-4 लाख देने का ऐलान किया है।

एडीजी आलोक राज ने कहा कि शाम तक मामला पुरअमन हो जाएगा। पुलिस गांव वालों से बात कर मामला पुरअमन करने की कोशिश में लगी हुई है। आईजी सुनील कुमार पूरे मामले की जांच करेंगे। दाखिला महकमा की हिदायत पर आईजी मौके के लिए रवाना हो गए हैं।

 

TOPPOPULARRECENT