Saturday , October 21 2017
Home / Crime / सनसनीखेज़ अग़वा केस चंद घंटों में हल

सनसनीखेज़ अग़वा केस चंद घंटों में हल

हाइकोर्ट के क़रीब पेश आए दो साला कमसिन लड़की के सनसनीखेज़ अग़वा के केस को चारमीनार पुलिस अंदरून चंद घंटे हल करते हुए मग़्विया लड़की को अग़वा के चंगुल से बचा लिया। चारमीनार पुलिस की एक ख़ुसूसी टीम ने गुंटूर के इलाक़े ब्रॉडीपेट में वाक़्य

हाइकोर्ट के क़रीब पेश आए दो साला कमसिन लड़की के सनसनीखेज़ अग़वा के केस को चारमीनार पुलिस अंदरून चंद घंटे हल करते हुए मग़्विया लड़की को अग़वा के चंगुल से बचा लिया। चारमीनार पुलिस की एक ख़ुसूसी टीम ने गुंटूर के इलाक़े ब्रॉडीपेट में वाक़्ये एक मकान में धावा करते हुए अग़वा करने वला हनुमंत राव‌ को गिरफ़्तार करलिया।

तफ़सीलात के बमूजब विष्णु साकिन पुराना पुल दुर्गानगर जो चाय का ठेले बंडी पर रोज़ाना हाइकोर्ट के क़रीब कारोबार करता है। विष्णु को जुमला चार बच्चे हैं और वो अपनी दो साला लड़की मोनीका को अपने साथ सुबह ले आया और वो कारोबार में मसरूफ़ था। दोपहर में मोनीका को एक शख़्स ने बिस्किट देने के बहाने उसे राग़िब किया और बादअज़ां कुछ ही देर में वो लड़की का अग़वा करके फ़रार होगया।

मोनीका अचानक लापता होजाने पर इस के बाप ने हाइकोर्ट के अतराफ़ के इलाक़े में उस की तलाश की। लेकिन इस का पता ना चल सका जिस के सबब विष्णु चारमीनार पुलिस से इस सिलसिले में एक शिकायत दर्ज करवाई।

अग़वा की शिकायत मौसूल करने के बाद चारमीनार पुलिस ने हाइकोर्ट के क़रीब नसब किए गए सी सी टी वेज़ का तजज़िया किया जिस में अग़वा करने वाले की शिनाख़्त हनुमंत राव‌ की हैसियत से की गई और अग़वा के बाद लड़की को ऑटो में मुंतक़िल किए जाने की हरकत को भी सी सी टी वी में क़ैद किया गया। अस्सिटेंट कमिशनर आफ़ पुलिस चारमीनार के अशोक चक्रवर्ती ने चारमीनार पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर यादगिरी पर मुश्तमिल एक ख़ुसूसी टीम को गुंटूर रवाना किया और हनुमंत राव‌ का कामयाब तौर पर पता लगा लिया। अग़वा कनुंदा को इस के मकान वाक़्ये ब्रॉडीपेट में गिरफ़्तार करलिया गया और मग़्विया दो साला मोनीका को इस के चंगुल से रहा करते हुए उसे हैदराबाद मुंतक़िल किया।

TOPPOPULARRECENT