Wednesday , October 18 2017
Home / India / सरकारी मदद के बगैर दहशतगर्द कंट्रोल रुम का क़ियाम नामुमकिन

सरकारी मदद के बगैर दहशतगर्द कंट्रोल रुम का क़ियाम नामुमकिन

हिंदूस्तान ने आज कहा कि ये हक़ीक़त शिद्दत से वाज़ख़ होती जा रही है कि 2008 के मुंबई दहशतगर्द हमलों की साज़िश पर अमल आवरी में सरकारी कारिंदे भी शामिल थे और ये कि सरकारी मदद के बगैर पाकिस्तान में दहशत गर्दी का कंट्रोल रुम क़ायम नहीं किया जा

हिंदूस्तान ने आज कहा कि ये हक़ीक़त शिद्दत से वाज़ख़ होती जा रही है कि 2008 के मुंबई दहशतगर्द हमलों की साज़िश पर अमल आवरी में सरकारी कारिंदे भी शामिल थे और ये कि सरकारी मदद के बगैर पाकिस्तान में दहशत गर्दी का कंट्रोल रुम क़ायम नहीं किया जा सकता था।

वज़ीर ए दाख़िला पी चिदम़्बरम ने कहा कि हिंदूस्तान जानता है कि अजमल क़स्साब और दीगर 9 दहशतगर्दों को किस ने तरबियत दी थी जिन्होंने मुंबई पर दहशतगर्द हमले किया था । हिंदूस्तान ये भी जानता है कि किस ने दहशतगर्द कंट्रोल रुम को तफ़सीलात से वाक़िफ़ करवाया था और कहां से हिदायात जारी हुई थीं और कहां से काम किया गया ।

मिस्टर चिदम़्बरम ने अख़बारी नुमाइंदों से बात चीत करते हुए कहा कि अब इस बात की तरदीद ( खंडन) करना मुम्किन नहीं है कि अगरचे वाक़िया तो मुंबई में हुआ था लेकिन इस के पहले और बाद में पाकिस्तान में ही इसका कंट्रोल रुम था । मुल़्क की मदद के बगैर कंट्रोल रुम क़ायम नहीं किया जा सकता।

वज़ीर दाख़िला ने कहा कि अजमल क़स्साब से पूछगिछ के बाद सुबूतों से ये वाज़िह निशानदेही हो गई थी कि इस में सरकारी कारिंदे मुलव्वस हैं। इस बात को सैयद ज़बीह अली उद्दीन अंसारी अरब अबू ज़िंदाल की तरफ़ से दीए गए बयान से भी तक़वियत ( मजबूती) मिली है । अबू ज़िंदाल को सऊदी अरब से वापसी के मौक़ा पर 21 जून को गिरफ़्तार किया गया था ।

मिस्टर चिदम़्बरम ने कहा कि अबू ज़िंदाल से पूछगिछ के बाद ये और भी वाज़िह ( स्पष्ट) हो गया है कि इस में सरकारी कारिंदे मुलव्वस थे । तस्वीर वाज़िह से वाज़िह तर हो रही है और अब हम ये समझने के काबिल हो गए हैं कि वो कौन थे और कहां थे। 26/11 हमलों में कोई सरकारी कारिंदे मुलव्वस ना होने से मुताल्लिक़ पाकिस्तान के दावाओं को मुस्तर्द करते हुए वज़ीर दाख़िला ने कहा कि कोई भी ख़ुदमुख्तार मुल्क अपनी सरज़मीन पर गैर सरकारी अनासिर को दहशतगर्द सरगर्मियां जारी रखने की इजाज़त नहीं दे सकता।

मिस्टर चिदम़्बरम ने कहा कि मैं किसी भी गैर सरकारी कारिंदे को अपने पड़ोसी मुल्क में कोई दहशतगर्द कार्रवाई करने की इजाज़त नहीं दे सकता।

TOPPOPULARRECENT