Thursday , October 19 2017
Home / Delhi News / सरकारी ज़ेर-ए‍-इंतेज़ाम कंपनियों को कोरपोरेशन बनाने का हुकूमत को इख़तियार हासिल : वज़ीर-ए-आज़म

सरकारी ज़ेर-ए‍-इंतेज़ाम कंपनियों को कोरपोरेशन बनाने का हुकूमत को इख़तियार हासिल : वज़ीर-ए-आज़म

नई दिल्ली: वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि उनकी हुकूमत सरकारी ज़ेर-ए‍-इंतेज़ाम कंपनीयों को कारपोरेशन बनाने का इख़तियार रखती है ताकि उन्हें पायदार बनाने के लिए उनकी सूरत-ए-हाल को बेहतर बनाया जा सके। ये एक मुतबादिल तरीक़ा है।

इन कंपनीयों को बजाय बंद करने के उनसे सरमायाकारी की तख़फ़ीफ़ की जा सकती है। उन्होंने कहा कि हमारा मुल़्क इस्लाह पसंदों का मुल्क है जिनका कहना है कि अगर आप‌ तख़फ़ीफ़ सरमायाकारी करें तो हुकूमत बहुत अच्छा काम करेगी। अगर हड़ताल हो जाएगी तो अख़बारात के सफ़ाह-ए-अव्वल की ख़बरें बन जाती हैं।

मोदी मुर्दा बाद के नारे लगाए जाते हैं। जहाज़रानी कंपनियों के सिलसिले में जो नुक़्सान में चल रही थीं, मुनाफ़ा बख़श बनाने के लिए हुकूमत ने ऐसा ही इक़दाम किया था और इस के रद्द-ए-अमल में ऐसा ही कुछ हुआ था। हिन्दुस्तान टाईम्स की क़ियादत के मौज़ू पर चोटी कान्फ़्रेंस से ख़िताब करते हुए वज़ीर-ए-आज़म नरेंद्र मोदी ने मज़कूरा बाला तबसरा किया।

TOPPOPULARRECENT