Wednesday , October 18 2017
Home / Khaas Khabar / सलमान- सलीम ख़ान पर मुस्लिम तंज़ीम की तन्क़ीद

सलमान- सलीम ख़ान पर मुस्लिम तंज़ीम की तन्क़ीद

फ़ोर्म बराए मुस्लिम मुताला जात-ओ-तजज़िया ने बॉलीवुड अदाकार सलमान ख़ान और उन के वालिद कहानी कार सलीम ख़ान की नरेंद्र मोदी की सताइश को ख़ालिस तिजारती फ़वाइद पर मबनी क़रार देते हुए उन की मज़म्मत की।

फ़ोर्म बराए मुस्लिम मुताला जात-ओ-तजज़िया ने बॉलीवुड अदाकार सलमान ख़ान और उन के वालिद कहानी कार सलीम ख़ान की नरेंद्र मोदी की सताइश को ख़ालिस तिजारती फ़वाइद पर मबनी क़रार देते हुए उन की मज़म्मत की।

फ़ोर्म बराए मुस्लिम मुताला जात-ओ-तजज़िया अलीगढ़ मुस्लिम यूनीवर्सिटी का एक शोबा है जो ज़्यादा तर मुस्लिम दानिश्वरों पर मुश्तमिल है जिस ने कल एक क़रारदाद मंज़ूर की थी सलीम ख़ान के बी जे पी विज़ारते उज़मा के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की सरकारी उर्दू वेबसाइट की रस्मे इफ़्तेताह अंजाम देने पर तंज़ीम ने उन पर और उनके फ़र्ज़ंद पर तन्क़ीद करते हुए कहा कि दोनों बदतरीन किस्म की सियासी मौकापरस्ती का इज़हार कररहे हैं जिसका मक़सद ख़ालिस तिजारती फ़वाइद हैं।

क़रारदाद में कहा गया है कि सलीम ख़ान जैसे अफ़राद ही ज़राए इबलाग़ की तारीफ़ करते हैं वो चाहते हैं कि गुजरात की मिसाली मआशी तरक़्क़ी की सताइश करते हुए शौहरत हासिल करें। हालाँकि उन्होंने बुनियादी हक़ायक़ का जायज़ा नहीं लिया है। क़रारदाद में मज़ीद कहा कि सलमान ख़ान ने सालाना सीफ़ाई महोत्सव में शिरकत की थी जिस का एहतेमाम इटावा में हुकूमत यू पी ने जनवरी में किया था जब मुज़फ़्फ़र नगर फ़सादात के मुतास्सिरीन मुबय्यना तौर पर राहत रसानी कैम्पों में सर्दी की शिद्दत से फ़ौत होरहे थे अब उन्होंने मोदी के गिरोह में शिरकत करली है ताकि गुजरात में क़त्ल-ए-आम के इल्ज़ामात का सामना करनेवाली ताक़तों की ख़ुशामद करसकें।

क़रारदाद में कहा गया है कि बुनियादी मसला सियासी पार्टी की ताईद या मुख़ालिफ़त नहीं बल्कि बुनियादी उसूलों के बारे में अख़लाक़ी मौक़िफ़ इख़तेयार करने का है । ये बुनियादी उसूल जिन पर दस्तूर हिंद की बुनियाद है ख़तरे का शिकार हैं।

TOPPOPULARRECENT