Saturday , October 21 2017
Home / Business / सहारा ने सुब्रत रॉय के जेल में ऐशो-आराम के लिए खर्च किए 31 लाख रूपए

सहारा ने सुब्रत रॉय के जेल में ऐशो-आराम के लिए खर्च किए 31 लाख रूपए

तिहाड़ जेल में सुब्रत रॉय के ऐशो आराम के लिए सहारा ग्रुप अब तक 31 लाख रूपए खर्च कर चुका है। तिहाड़ जेल के इंतेज़ामिया ने सुब्रत रॉय को 57 दिनों तक एसी, फोन, इंटरनेट और वीडिया कॉफ्रेंसिंग की सहूलियात दी थीं, ताकि वे अपने होटलों को बेच सके

तिहाड़ जेल में सुब्रत रॉय के ऐशो आराम के लिए सहारा ग्रुप अब तक 31 लाख रूपए खर्च कर चुका है। तिहाड़ जेल के इंतेज़ामिया ने सुब्रत रॉय को 57 दिनों तक एसी, फोन, इंटरनेट और वीडिया कॉफ्रेंसिंग की सहूलियात दी थीं, ताकि वे अपने होटलों को बेच सकें। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने सुब्रत रॉय को जेल में ही कॉन्फेंस रूम की सहूलियत फराहम कराने को कहा था, ताकि वह गैर मुल्क में ग्रुप की प्रापर्टी को बेच कर जमानत के लिए दस हजार करोड़ रूपए जुटा सकें।

सहारा ग्रुप ने इन खुसूसी सहूलियात के खत्म होने से पहले ही ये रकम तिहाड़ जेल के इंतेज़ामिया को जमा कर दी। जेल इंतेज़ामिया की सीनीयर आफिसर ने इस बात की तस्दीक की है कि इस खर्च में सुब्रत रॉय की सेक्युरिटी , बिजली बिल और खाना शामिल है। 65 साला सुब्रत रॉय ने 57 दिनों (5 अगस्त से 30 सितंबर) तक खुसूसी सहूलियात का फायदा उठाया। इस दौरान डायरेक्टर अशोक रॉय चौधरी और रवि शंकर दूबे भी सुब्रत रॉय से साथ मौजूद रहे।

तिहाड़ जेल के इंतेज़ामिया ने कहा कि हाल में ही सुब्रत रॉय की ओर से उन्हें एक खत मिला है, जिसमें खुसूसी सहूलियात को बहाल करने की बात कही गई है। खत में लिखा गया है कि उनके होटलों को बेचने के सौदे तकरीबन 80 फीसद तक पूरे हो चुके हैं, ऐसे में अगर खुसूसी सहूलियात हटा ली गईं, तो इससे सौदों पर काफी असर होगा। सुब्रत रॉय को सूद समेत बीस हजार करोड़ रूपए नहीं चुकाने के सबब 4 मार्च को जेल भेज दिया गया था। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने सुब्रत रॉय की जमानत के लिए दस हजार करोड़ रूपए जमा करवाने के लिए कहा था, जिसमें पांच हजार करोड़ रूपए नगद और पांच हजार करोड़ की बैंक गारंटी शामिल थी।

TOPPOPULARRECENT