Thursday , October 19 2017
Home / Bihar News / साध्वी का जिंसी इस्तेहसाल

साध्वी का जिंसी इस्तेहसाल

प्रजापिता ब्रह्नाकुमारी ईश्वरीय यूनिवरसिटि की फतुहा शाख की 19 साल की साध्वी ने शाख सुपरवाइजर ललन पर इस्मतरेज़ि और जिंसी इस्तेहसाल का इल्ज़ाम लगाते हुए पीर को ख़वातीन थाने में मामला दर्ज कराया है। शाख की एख्तियार और शरीक एख्तिया

प्रजापिता ब्रह्नाकुमारी ईश्वरीय यूनिवरसिटि की फतुहा शाख की 19 साल की साध्वी ने शाख सुपरवाइजर ललन पर इस्मतरेज़ि और जिंसी इस्तेहसाल का इल्ज़ाम लगाते हुए पीर को ख़वातीन थाने में मामला दर्ज कराया है। शाख की एख्तियार और शरीक एख्तियार पर भी साजिश रचने का इल्ज़ाम लगाया गया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। साध्वी का कहना है कि ललन करीब दो साल से उसका जिंसी इस्तहसाल कर रहा था। कुछ महीने पहले वह फतुहा थाने में भी गयी थी, लेकिन वहां मामला दर्ज नहीं किया गया।

इसकात हमल भी कराया

मुतासिरा ने बताया कि दुनिया के मोह-माया जया कर वह लोगों की खिदमत करने की नीयत से साल 2008 में अदारे से जुड़ी थी। शाख एख्तियार ने वहां रहनेवाली तमाम लड़कियों को बहन और लड़कों को भाई कह कर मुखातिब करने को कहा। थोड़ा वक़्त बीतने के बाद वह तमाम से घुल-मिल गयी। उसे रोज सुपरवाइजर ललन का पैर दबाने के लिए भेजा जाता था। पांच-छह महीने बीत जाने के बाद ललन ने उसके साथ बदतमीजी करना शुरू कर दिया। इसकी शिकायत जब उसने अंजू से की, तो वह भड़क उठी। उलटा उसी को बुरा-भला कहने लगी।

जब इस बात की जानकारी ललन को हुई, तो उसने कमरे में बुलाया और इस्मतरेज़ि किया। इसकी शिकायत लेकर वह दोबारा एकतीयार के पास पहुंची, लेकिन इन दोनों ने कोई ध्यान नहीं दिया। बार-बार उसे ललन के कमरे में भेजा जाता था। इस दरमियान एक बार वह हमल भी हो गयी। यह बात दूसरे साथियों को बतायी, तो वहां हड़कंप मच गया। उस वक़्त ललन ने शादी करने का झांसा देकर मामले को रफा-दफा करने के लिए कहा। उसे अपने साथ बगल की एक दवा दुकान में ले जाकर उसका इसकात करवा दिया। तहम, इसके बाद भी ललन ने जिंसी इस्तहसाल जारी रखा। मुतासिरा और उसके साथी कमलेश का इल्ज़ाम है कि फतुहा शाख में जिश्म का धंधा चलाया जा रहा है। सुबह चार बजे साध्वियों को अमृत बेला की पूजा के लिए जगाया जाता है और जबरन मर्द उनके साथ एक ही कंबल में घुस कर योग के नाम पर गलत हरकत करते हैं।

जांच हो रही है

प्रजापिता ब्रह्नाकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय, कंकड़बाग शाख की मीना बहन का कहना है कि इस सिलसिले में आज शाम ही उन्हें जानकारी मिली है। पूरे मामले की छानबीन और जांच के बाद ही सच्चई का पता चल पायेगा। फतुहा शाख के खुले करीब दस साल हुए हैं। उसी वक़्त से ललन वहां सुपरवाइजर हैं। इससे पहले कोई शिकायत नहीं मिली थी। एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

TOPPOPULARRECENT