Wednesday , October 18 2017
Home / India / साध्वी प्रग्या सिंह की दरख़ास्त ज़मानत की मुख़ालिफ़

साध्वी प्रग्या सिंह की दरख़ास्त ज़मानत की मुख़ालिफ़

मुंबई, ०८ जनवरी : ( पी टी आई ) : नैशनल अनोसटी गैश एजेंसी ( एन आई ए ) ने मालीगांव 2008 बम धमाकों की कलीदी मुल्ज़िम साध्वी प्रगया सिंह ठाकुर की दरख़ास्त ज़मानत की ख़ुसूसी मकोका अदालत में मुख़ालिफ़त की ।

मुंबई, ०८ जनवरी : ( पी टी आई ) : नैशनल अनोसटी गैश एजेंसी ( एन आई ए ) ने मालीगांव 2008 बम धमाकों की कलीदी मुल्ज़िम साध्वी प्रगया सिंह ठाकुर की दरख़ास्त ज़मानत की ख़ुसूसी मकोका अदालत में मुख़ालिफ़त की ।

तहक़ीक़ाती एजैंसी ने कहा कि मुल्ज़िमा ने हमला की तमाम मालूमात रखते हुए दीगर मुल्ज़िमीन की ना सिर्फ मदद की बल्कि उन्हें इस कार्रवाई के लिए उकसाया । प्रगया सिंह ठाकुर ने 18 नवंबर को मकोका अदालत में तीसरी मर्तबा दरख़ास्त ज़मानत दाख़िल करते हुए कहा था कि उसे मुक़द्दमा में ग़लत माख़ूज़ किया गया है ।

एन आई ए की पब्लिक परासीकोटर रोहिणी सालियन ने ज़मानत की मुख़ालिफ़त करते हुए कहा कि तहक़ीक़ाती एजैंसी के पास ऐसे ठोस शवाहिद मौजूद हैं । जिन से मुल्ज़िमा के धमाकों में मुलव्वस होने का सबूत मिलता है । वो मुनज़्ज़म जराइम टोला की रुकन है और इस ने साज़िश से पूरी तरह वाक़िफ़ रह कर दीगर मुल्ज़िमीन की मदद की और उन्हें इस कार्रवाई के लिए उकसाया ।

उन्हों ने बताया कि बम नसब करने के लिए माधवी के नाम पर रजिस्टर्ड मोटर सैक़ल इस्तिमाल की गई । इस दरख़ास्त पर मज़ीद बेहस की समाअत 21 जनवरी को होगी । क़ब्लअज़ीं माधवी की दो मर्तबा दरख़ास्त ज़मानत को अदालत ने मुस्तर्द कर दिया था ।

तीसरी मर्तबा दायर करदा दरख़ास्त में माधवी ने कहा कि यकसाँ सुलूक की बुनियाद पर उसे भी ज़मानत देनी चाहीए क्यों कि मुक़द्दमा के दीगर मुल्ज़िमीन श्याम शाजो , शीवजी कलसनगरा और अजय राहुर कर को ज़मानत दी जा चुकी है ।

TOPPOPULARRECENT