Tuesday , October 17 2017
Home / India / साबिक़ रुकन असेम्बली के मकान पर नक्सलाईटस का हमला

साबिक़ रुकन असेम्बली के मकान पर नक्सलाईटस का हमला

रायपुर सिक्योरिटी गार्ड्स से असलाह छीन कर फ़रार

रायपुर

सिक्योरिटी गार्ड्स से असलाह छीन कर फ़रार

रियासत छत्तीसगढ़ में इंतेहा पसंद पसंदी से मुतास्सिरा ज़िला कांकेर में नक्सलाईटस ने एक साबिक़ कांग्रेस रुकन असेम्बली के मकान पर हल्ला बोल दिया और उन के सिक्योरीटी गार्ड से असलाह छीन कर फ़रार होगए ताहम इस वाक़िए में कोई ज़ख़मी नहीं हुआ। ज़िला पुलिस सुप्रिटेंडेंट‌ आर एन दास ने बताया कि 4मुसल्लह नक्सलाईटस कल शब 8:30 बजे मोटर साइकिलों पर सवार होकर इलाक़ा यखनजोर में वाक़्य साबिक़ रुकन असेम्बली मंतो राम पवार के मकान पहुंचे और अचानक हल्ला बोल दिया।

इस हमले के वक़्त मिस्टर पवार दार-उल-हकूमत रायपुर में थे जबकि उनकी अहलिया और दो बच्चे मकान में मौजूद थे। ताहम इस हमले में किसी को गज़ंद नहीं पहुंची। बागियों ने सिक्योटी गार्ड्स को तमांचा रसीद किया और उनकी तहवील सेआदद इन्सास राइफल्स एक एस एल आर राइफ़ल और चंद एक कारामद गोलियां छीन कर फ़रार होगए।

इस वाक़िये के फ़ौरी बाद सिक्योरिटी फ़ोर्स की टीम जाये वक़ूअ पहुंची और हमलावरों को पकड़ने के लिए मुशतर्का तलाशी मुहिम शुरू करदी गई है। एस पी ने बताया कि बादियुन्नज़र में एसा मालूम होता है कि सिक्योरीटी गार्ड्स नक्सलाईटस की शनाख़्त नहीं करसके क्योंकि वो सियोल आम शहरीयों के लिबास में थे और वो ख़तरा महसूस करने से क़ब्ल ही मोइस्टों ने सिक्योरिटी गार्ड्स को असलाह से ख़ौफ़ज़दा कर दिया।

साबिक़ रुकन असेम्बली पवार ने रायपुर से बताया कि उनकी अहलिया, दो बच्चे और एक भतीजा महफ़ूज़ हैं जो कि हमले के वक़्त मकान में मौजूद थे। मिस्टर पवार 1998-2003 में अनंत गेरी असेम्बली हलक़े से कांग्रेस के टिकट पर मुंतख़ब हुए थे और गुज़िश्ता साल अगस्ट के इंतेख़ाबात में लम्हा आख़िर में मुक़ाबले से दस्तबरदार होजाने पर कांग्रेस से ख़ारिज कर दिया गया था।

TOPPOPULARRECENT