Sunday , October 22 2017
Home / District News / सार्कों के हाथों मुअम्मर शख़्स का क़त्ल

सार्कों के हाथों मुअम्मर शख़्स का क़त्ल

निज़ामबाद के कामारेड्डी डिविज़न के लिंगमपेट मंडल के मौज़ा नल्ला मड़गो में एक ज़ईफ़-उल-उमर शख़्स का नामालूम सार्कों ने गला घूँट कर क़त्ल कर दिया।

निज़ामबाद के कामारेड्डी डिविज़न के लिंगमपेट मंडल के मौज़ा नल्ला मड़गो में एक ज़ईफ़-उल-उमर शख़्स का नामालूम सार्कों ने गला घूँट कर क़त्ल कर दिया।

इस वाक़िये के बाद सारे देहात में सनसनी फैल गई। तफ़सीलात के मुताबिक़ कामारेड्डी डिविज़न के लिंगमपेट मंडल के मौज़ा नल्ला मड़गो में मुहम्मद सादिक़ अली कल रात अपने मकान के रूबरू वाक़्ये झोंपड़ी में सूरहे थे और ये एक पैर से माज़ूर थे जबकि इन का लड़का वहीद उद्दीन ज़रई कामों में मस्रूफ़ियत की वजह से खेत में ज़रई काम करवा रहा था उन के मकान में ज़ईफ़ बीवी और उन की बहू और बच्चे महोख़वाब थे कि दो नामालूम सार्क मकान के ऊपरी हिस्से से घर में दाख़िल हुए और उनकी बहू हफ़ज़ीह फ़ातिमा को जगाया और चाक़ू दिखाया जिस से ये ख़ौफ़ज़दा होकर चीख़-ओ-पुकार करना शुरू किया तो उनकी ज़ईफ़ सास भी उठ गई और उन सार क़ैन ने घर में मौजूद सोना चांदी और नक़द रक़म-ओ-जे़वरात देने की धमकी दी।

जिस पर उन्होंने घर में कोई भी चीज़ मौजूद ना होने का इज़हार करने पर अलमारी खोलने की ख़ाहिश की और जहां से कोई भी क़ीमती चीज़ हाथ ना लगने पर घर से बाहर जाते वक़्त घर का दरवाज़ा बंद करवाया सामने झोंपड़ी में मौजूद ज़ईफ़ सादिक़ अली चीख़-ओ-पुकार करना शुरू किया तो सार्क ने इन का बेरहमी के साथ गला काट दिया।

सार्क वापिस चले जाने के बाद ज़ईफ़-उल-उमर सादिक़ अली की कोई भी आवाज़ ना आने पर उन्होंने झोंपड़ी में देखा तो उन की लाश पड़ी हुई थी जिस पर चीख़-ओ-पुकार करना शुरू किया तो पड़ोसी जमा होगए।

पुलिस को इत्तेला देने पर सब इन्सपेक्टर लिंगमपेट राजेश कुमार, सर्किल इन्सपैक्टर यलारेडी राधा कृष्णा वहा पहुंच कर अफ़राद ख़ानदान से मुलाक़ात की और उन को प्रसा दिया। नुमाइंदा सियासत ने मुक़ाम हादसे का मुआइना किया और इस क़त्ल में मुख़्तलिफ़ शक-ओ-शुबहात ज़ाहिर होरहे हैं क्ययुंकि सार क़ैन ने सादिक़ अली के घर वालों को मकई फ़रोख़त से हासिल होने वाली रक़म के बारे में दरयाफ़त कररहे थे । पुलिस लिंगमपेट बाद पोस्टमार्टम लाश को विरसा के हवाले कर दिया।

TOPPOPULARRECENT