Saturday , October 21 2017
Home / Uttar Pradesh / साल भर में 28 रिश्ऱतखोर जाल में

साल भर में 28 रिश्ऱतखोर जाल में

साल 2013 के 20 दसिंबर तक विजिलेन्स ब्यूरो ने 26 सफल धावा कांड को अंजाम दिया। इसमें 28 अफसरों और मुलाज़िमीन को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया। इसमें अधीक्षक इंजीनियर, कार्यपालक अभियंता, जिला मछ्ली ओहदेदार, खजाना ओहदेदार और डॉक्टर ओहदेदा

साल 2013 के 20 दसिंबर तक विजिलेन्स ब्यूरो ने 26 सफल धावा कांड को अंजाम दिया। इसमें 28 अफसरों और मुलाज़िमीन को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया। इसमें अधीक्षक इंजीनियर, कार्यपालक अभियंता, जिला मछ्ली ओहदेदार, खजाना ओहदेदार और डॉक्टर ओहदेदार भी शामिल थे। यह जानकारी सीबीआई ब्यूरो के एडीजीपी नीरज सिन्हा ने दी। सिन्हा के मुताबिक साल 2011 में 13 ट्रैप कांड दर्ज हुए थे और 13 मुल्ज़िम गिरफ्तार किए गए थे।

साल 2012 में 29 ट्रैप कांड दर्ज हुए और 34 मुल्ज़िम गिरफ्तार हुए। साल 2013 में 26 ट्रैप कांड हुए और 28 मुल्ज़िम गिरफ्तार कर जेल भेजे गए। सिन्हा ने बताया कि जनवरी से अब तक रिश्वत लेते 5.89 लाख रुपए बरामद किए गए। वहीं 22.32 लाख रुपए सर्च के दौरान बरामद हुए। 2011 में 67800 और 2012 में 9.58 लाख रुपए बरामद किए गए। साल 2013 : रिश्वत लेते 5.89 लाख जब्त, इंजीनियर शैलेश कुमार सिन्हा के घर से 6.59 लाख, इंजीनियर विपिन बिहारी सिन्हा के यहां से 4.90 लाख, कारखाना निरीक्षक राहुल कुमार के यहां से 16500 और खज़ाना ओहदेदार पवन कुमार केडिया के यहां से 4.77 लाख रुपए बरामद किए गए।
इस साल 46 कांड और 51 जांच का खत्म किया गया, जबकि गुजिशता साल 42 कांड और 40 जांचों का मुकम्मल हुआ था।
खाली हैं कई ओहदे : विजिलेन्स ब्यूरो में एसपी के तीन, डीएसपी के 16, इंस्पेक्टर के 12, स्टेनो के 31, इंजीनियर के छह और उप समाहर्ता सतह के सात ओहदे खाली हैं।

TOPPOPULARRECENT