Tuesday , October 17 2017
Home / Hyderabad News / सियासत का मज़हबी सफ़ा तालिबान हक़ के लिए नेअमत ग़ैर मुतरक़्क़बा

सियासत का मज़हबी सफ़ा तालिबान हक़ के लिए नेअमत ग़ैर मुतरक़्क़बा

हैदराबाद ०६। अप्रैल : ( रास्त ) : आज के इस पर फ़ितन दौर में मुस्लमान जहां बेराहरवी का शिकार होते हुए नज़र आरहे हैं वहीं इस्लामी तहज़ीब और तर्ज़-ए-ज़िदंगी से नाआश्ना हैं इस की बुनियादी वजह मुस्लमानों की इस्लामी तालीमात और इस्लाफ़ की ज

हैदराबाद ०६। अप्रैल : ( रास्त ) : आज के इस पर फ़ितन दौर में मुस्लमान जहां बेराहरवी का शिकार होते हुए नज़र आरहे हैं वहीं इस्लामी तहज़ीब और तर्ज़-ए-ज़िदंगी से नाआश्ना हैं इस की बुनियादी वजह मुस्लमानों की इस्लामी तालीमात और इस्लाफ़ की ज़िंदगीयों से दूरी है ।

और उन के पास इतना वक़्त भी नहीं कि बाज़ाबता तौर पर उलूमदयनीय से आरास्ता हो सकें ऐसे वक़्त में रोज़नामा सियासत की जानिब से मज़हबी सफ़ाका जामि अंदाज़ में आग़ाज़ तालिबान हक़ के लिए एक नेअमत ग़ैर मुतरक़्क़बा है औरहदीस शरीफ़ ये इलम तुम्हारा देन है देखो कि तुम अपना दीन किस से हासिल कररहे हो केबमिसदाक़ शरई मसाइल के हल और मज़हबी सफ़ा की तर्तीब के लिए जिन शख़्सियात काइंतिख़ाब किया गया है वो जामिआ निज़ामीया के काबिल तरीन उल्मा हैं । और एक अरसा-ए-दराज़ से जामिआ निज़ामीया के दारालाफ़ता-ए-से वाबस्ता और इफ्ता-ए-का तजुर्बा भी रखते हैं ।

अर्बाब रोज़नामा सियासत उस हुस्न इक़दाम पर काबिल-ए-सिताइश हैं । सनी उल्मा मशाइख़ बोर्ड महबूबनगर आप के इस दीनी इक़दाम पर समीम क़लब से मुबारकबादी देता है और दुआगो है कि अल्लाह रब अलाज़त आप की इन कोशिशों को शरफ़ क़बूलीयत अता फ़रमाए और उन को आप केलिए ज़ख़ीरा आख़िरत और ज़रीया नजात बनाए ।

जिन उल्मा ने अपनी गूनागूं मसरुफ़ियात के बावजूद इशाअत इलम की इस गिरां क़दर ज़िम्मेदारी का बीड़ा उठाया और दुआ गो हैं कि अल्लाह रब अलाज़त इन हज़रात की कोशिशों को क़बूल फ़रमाए और उन के फ़ैज़ान इलमी से तादेर एक ख़लक़ कसीर को फ़ैज़याब फ़रमाए ।आमीन । ब्यान जारी करने वालों में अल्हाज सय्यद अबदूर्रज़्ज़ाक़ शाह कादरी ( सज्जादानशीन दरगाह हज़रत सय्यद मरदान शाह-ओ-सरपरस्त बोर्ड ) , अल्हाज ख़तीब मुहम्मद अबदुलकरीम ( ख़तीब-ओ-इमाम जामि मस्जिद महबूबनगर-ओ-सरपरस्त बोर्ड ) , मौलाना क़ाज़ी शाह ग़ौस मुही उद्दीन कादरी ( सदर बोर्ड ) , मौलाना हाफ़िज़ मुहम्मद अबदुलमुतलिब ख़िज़र नक़्शबंदी ( कामिल अलहदीस जामिआ निज़ामीया-ओ-नायब सदर बोर्ड ) , मौलाना मुहम्मद सबग़त अल्लाह नक़्शबंदी ( नायब सदर बोर्ड ) , मौलाना मुहम्मद मुहसिन पाशाह कादरी नक़्शबंदी ( मोतमिद उमूमी बोर्ड ) , मौलाना हाफ़िज़ मुहम्मद इमतियाज़ अलरहमन ( नायब मोतमिद बोर्ड ) , मौलाना हाफ़िज़ सय्यद बुख़्तियार उद्दीन अंसार चिशती ( नायब सदर बोर्ड ) , हाफ़िज़ ख़्वाजा फ़ैज़ उद्दीन ( नायब सदर बोर्ड ) , हाफ़िज़ मुहम्मद मुनीरउद्दीन ( ख़ाज़िन बोर्ड ) , हाफ़िज़ मुहम्मद इस्माईल ( तर्जुमान आली बोर्ड ) शामिल हैं ।।

TOPPOPULARRECENT