Sunday , October 22 2017
Home / India / सिर्फ़ मोदी ही बदउनवानियों का ख़ातमा और काला धन वापिस लासकते हैं: बाबा राम देव

सिर्फ़ मोदी ही बदउनवानियों का ख़ातमा और काला धन वापिस लासकते हैं: बाबा राम देव

चन्दीगढ़ 17 जुलाई : योगा गुरु राम देव ने आज एक अहम बयान देते हुए कहा कि वज़ीर-ए-आला गुजरात नरेंद्र मोदी एक बावक़ार शख़्सियत हैं।

चन्दीगढ़ 17 जुलाई : योगा गुरु राम देव ने आज एक अहम बयान देते हुए कहा कि वज़ीर-ए-आला गुजरात नरेंद्र मोदी एक बावक़ार शख़्सियत हैं।

पार्टी को अपनी किरदार साज़ी की ज़रूरत है। राम देव ने वज़ीर-ए-आज़म के ओहदा के लिए नरेंद्र मोदी की शख़्सियत की ज़बरदस्त ताईद करते हुए उन्होंने अख़बारी नुमाइंदों से कहा कि मोदी एक सेकूलर लीडर हैं। गुजरात की तरक़्क़ी के लिए उन्होंने जो मेहनत की की है वो आज तक गुजरात के किसी वज़ीर-ए-आला ने नहीं की।

उन्होंने गुजरात में अक़ल्लियतों के इलाक़ों को भी तरक़्क़ी से हमकनार किया। मोदी पर कांग्रेस की जानिब से की गई तन्क़ीद का सख़्त नोट लेते हुए उन्होंने कहा कि मोदी को कांग्रेस से किसी सर्टीफ़िकेट की ज़रूरत नहीं है कि आया मोदी सेकूलर हैं या नहीं? उन्हों ने एक बार फिर मोदी का दिफ़ा करते हुए कुत्ते का बच्चा का हवाला देते हुए कहा कि उनके ( मोदी ) बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है।

उन्होंने ख़ुद मोदी को भी नसीहत की कि वो मुतनाज़ा बयान देने में मुहतात रहें क्योंकि उनके बयान को मनफ़ी अंदाज़ में देखा जा रहा है। अपनी बात एक बार फिर दुहराते हुए उन्होंने कहा कि मोदी एक बावक़ार शख़्सियत हैं और अपनी साख क़ायम किए हुए हैं जबकि बी जे पी को अपनी किरदार साज़ी की अशद ज़रूरत है।

राम देव ने कहा कि वो ऐसे किसी भी लीडर की भरपूर ताईद करने तैयार हैं जो बैरूनी ममालिक की बैंक्स में जमा काले धन को हिंदुस्तान ले आए, बदउनवानियों का ख़ातमा करदे और मौजूदा निज़ाम हुकूमत में ज़बरदस्त तबदीलियां लाए। ये वो मुआमलात हैं जिन पर फ़ौरी तवज्जो की ज़रूरत है और इस केलिए उन्हों ने मोदी और कांग्रेस के नायब सदर राहुल गांधी से भी मुलाक़ात की है लेकिन शख़्सी तौर पर वो मोदी की ताईद करते हैं।

मोदी ही एक ऐसे लीडर हैं जिन में काले धन को वापिस लाने और बदउनवानियों को ख़त्म करने की सलाहियत है। जब राम देव से पूछा गया कि क्या राम मंदिर को इंतिख़ाबी मौज़ू बनाए जाने की ज़रूरत है तो उन्होंने कहा कि लार्ड राम की शख़्सियत हिंदुस्तान के वक़ार की अलामत है और राम मंदिर की तामीर के लिए इस मौज़ू पर क़ौमी मुबाहिसा की ज़रूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि मुल्क में
बद उनवान अफ़राद को सज़ाए उम्र क़ैद दिए जाने की ज़रूरत है।

TOPPOPULARRECENT