Tuesday , October 17 2017
Home / India / सिर्फ मुस्लिम लड़कियों को मदद क्यों?

सिर्फ मुस्लिम लड़कियों को मदद क्यों?

कर्नाटक में गरीब मुस्लिम लड़कियों को दी जाने वाली 50,000 रुपये की इम्दाद रक़म स्कीम "शादी भाग्य योजना" का फायदा सभी फिर्के को दिये जाने की मांग करते हुए साबिक वज़ीर ए आला बी. एस.

कर्नाटक में गरीब मुस्लिम लड़कियों को दी जाने वाली 50,000 रुपये की इम्दाद रक़म स्कीम “शादी भाग्य योजना” का फायदा सभी फिर्के को दिये जाने की मांग करते हुए साबिक वज़ीर ए आला बी. एस. येदियुरप्पा ने रियासत की असेम्बली में रात भर धरना दिया, जो मंगल के रोज़ तक चला। कर्नाटक जनता पक्ष के सदर येदियुरप्पा ने असेम्बली की बैठक शुरु होने से पहले सहाफियों से कहा कि , ‘मैं ऐवान में तब तक धरने पर बैठा रहूंगा जब तक सिद्धरमैया की हुकूमत शादी भाग्य योजना का फायदा सभी फिर्के तक नहीं पहुंचाती।’

मंगल के रोज़ सदन की काररवाई शुरु होते ही येदियुरप्पा ने धरना खत्म कर दिया। हालांकि मामले में जांच-पड़ताल चल रही है। येदियुरप्पा ने 26 दिन तक बेंगलुरु में धरना दिया था और फिर उन्होंने अपना धरने का मुकाम बदलकर बेलगाम कर दिया, जहां अभी विधानसभा का सेशन चल रहा है।

साबिक् वज़ीर ए आला ने पीर की रात रात ऐवान की काररवाई मुल्तवी होने के बाद भी बाहर निकलने से मना कर दिया था। येदियुरप्पा ने कहा कि ना तो सिद्धरमैया और ना ही उनके किसी कैबिनेट साथी ने इस मुद्दे के हल के लिए उनसे मुलाकात की।

TOPPOPULARRECENT