Sunday , September 24 2017
Home / Khaas Khabar / सिर्फ 27 साल की उम्र में दुनिया के सभी देश घूम चुकी यह लड़की

सिर्फ 27 साल की उम्र में दुनिया के सभी देश घूम चुकी यह लड़की

न्यूयॉर्क: यदि कोई व्यक्ति दुनिया के 50 देश देख ले तो उसके व्यक्तित्व प्रभावशाली बन जाती है और अगर कोई दुनिया के 100 देश देख ले तो लोग उसे हसरत भरी निगाहों से देखने के साथ-साथ उसके प्रशंसक भी जाते हैं, मगर जब कोई कम उम्र में दुनिया के सभी देश घूम ले तो यह निश्चित रूप से बहुत बड़े सम्मान की बात होगी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

अमेरिकी राज्य कैंटकी से संबंध रखने वाली 27 वर्षीय लड़की कैसनड्रा डी पिकोल ने न केवल दुनिया के सभी खुदमुख्तार, आज़ाद और मान्यता प्राप्त देशों को देखी है, बल्कि वह कम समय में पूरी दुनिया घुमने वाली कम उम्र लड़की का सम्मान भी रखती हैं।

एक मध्यम वर्ग से संबंध रखने वाली 27 वर्षीय कैसनड्रा ने 2 साल से भी कम समय में दुनिया के 196 स्वतंत्र देशों को देखने के साथ-साथ ताइवान, कोसोवो और फिलिस्तीन जैसे देश भी देखें हैं जिन्हें अब तक विश्व स्तर पर आज़ाद और खुदमुख़्तार राज्य के रूप पर स्वीकार नहीं किया जाता।

डॉन न्यूज़ की खबरों के अनुसार दुनिया के सभी देश घुमने वाली लड़की की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के अनुसार कैसनड्रा डी पिकोल को शिक्षा के दौरान दुनिया के सैर की इच्छा पैदा हुई, जिसकी पूर्ति के लिए उन्होंने अपनी भाई के साथ यूरोप के कुछ देशों की यात्रा भी की, लेकिन बाद में उनकी यह इच्छा बढ़ गई।

डी पिकोल की इच्छा को पूरा करने के लिए वैश्विक संस्थायें इंटरनेशनल पीस संस्थान (आई पी आई) अमेरिकी संस्थान सकाल इंटरनेशनल ने उनकी मदद की, इन संस्थाओं ने पर्यटन के माध्यम से शांति को बढ़ावा देने के लिए कैसनड्रा को अपना राजदूत नियुक्त करके दुनिया के देशों का सफर करने के लिए भेजा।

डी पिकोल ने वैश्विक संस्थानों की मदद से जुलाई 2015 से दुनिया के देशों का सफर शुरू किया और 2016 के अंत तक यमन, सीरिया और तुर्कमेनिस्तान के अलावा दुनिया के 196 खुदमुख्तार और स्वतंत्र देशों का दौरा पूरा किया, कैसनड्रा के अनुसार फरवरी 2017 तक वे इन तीनों देशों का दौरा भी पूरी कर लेंगी।

अपनी यात्रा के दौरान दुनिया के 38 विभिन्न देशों के 41 विश्वविद्यालयों के 15,000 हजार से अधिक छात्रों को संबोधित भी किया, जबकि उन्होंने एक वैश्विक परियोजना के तहत दुनिया के 15 विभिन्न देशों में 45 पेड़ भी लगाए।

दुनिया के सभी देशों में घूमकर रिकॉर्ड बनाने वाली पिकोल अपनी यात्रा के दौरान ‘कंजर्वेशन माइक्रो प्लास्टिक प्रोजेक्ट’ के तहत दुनिया के सभी देशों से अनुसंधान के क्रम में पानी के नमूने एकत्र किए।

अपने शौक को हकीकत में बदलने की इच्छा रखने वाली 27 वर्षीय कैसनड्रा वैश्विक संस्थाओं की ओर से टूरिज्म अम्बेसडर फॉर पीस नियुक्त होने के बाद अब एक संस्था का रूप धारण कर चुकी है ।

TOPPOPULARRECENT