Tuesday , August 22 2017
Home / Bihar/Jharkhand / सिविल सेवा इम्तिहान : सड़क से एसेम्बली तक हंगामा, 269 में झारखंड के 201 कामयाब

सिविल सेवा इम्तिहान : सड़क से एसेम्बली तक हंगामा, 269 में झारखंड के 201 कामयाब

रांची : पांचवीं सिविल सेवा इम्तिहान में नौ सर्विस में कुल 272 ओहदे थे, 269 ओहदे का रिजल्ट निकला, जिनमें 201 कामयाब उम्मीदवार झारखंड के हैं. कुल 164 ओहदे रिजर्व नहीं था, जिसमें झारखंड के 96 उम्मीदवार कामयाब हुए हैं. वहीं 68 बाहर के रियासतों के़ यूपी, छत्तीसगढ़ व हरियाणा के एक-एक और बंगाल के तीन उम्मीदवार कामयाब हुए हैं. बिहार के 62 उम्मीदवारों ने कामयाबी पायी है़ माज़ूर के तीन ओहदे खाली रह गये. आखरी तौर से शाया रिजल्ट के मुताबिक बिना रिजर्व ओहदे के लिए कटऑफ मार्क्स 798 पॉइंट्स रहा. जबकि एसटी के लिए 757 पोईन्ट्स , एससी के लिए 760, बीसी वन के लिए 785 व बीसी टू के लिए 797 पॉइंट्स रहा. कमीशन ने तमाम सलेक्टेड उम्मीदवारों की सिफारिश रियासती हुकूमत के पास भेज दी है. अब रियासती हुकूमत दस्तावेज की जांच कर ताक़र्रुरी की अमल शुरू करेगी़.

इम्तिहान को लेकर पहले सी-सैट को लेकर तनाजा हुआ था. दस्तुरुल अमल से नाखुश कई उम्मीदवारों ने इसकी शिकायत मौजूदा वज़ीरे आला हेमंत सोरेन से की. हेमंत सोरेन ने मेन इम्तिहान शुरू होने के एक दिन पहले कमीशन को दस्तुरुल अमल की जायजा करने और इम्तिहान मुअत्तिल करने की दरख्वास्त किया था़. दस्तुरुल अमल की जायजा के लिए कार्मिक विभाग को हिदायत भी दिया गया. बाद में रघुवर दास की सरकार में इसकी जायजा की गयी. सी-सैट को हटा दिया और कमीशन को इम्तिहान लेने की इजाजत दी. मेन इम्तिहान में 844 उम्मीदवार कामयाब हुए. मेन इम्तिहान के रिजल्ट पर फिर से तनज़ा हो गया़ धरना-प्रदर्शन शुरू हुआ. मामला कोर्ट में भी पहुंचा. कमीशन ने एक से 16 दिसंबर 2015 तक इंटरव्यू लिया. इसके बाद 21 फरवरी को आखरी रिजल्ट की एलान भी कर दी.

कमीशन के अफसरों के मुताबिक इम्तिहान में कोई गड़बड़ी नहीं हुई है. कमीशन इम्तिहान मुनाक्किद करनेवाली एक कानूनी एजेंसी है. इम्तिहान व ताक़र्रुरी रियासती हुकूमत की दस्तुरुअल अमल की बुनियाद पर होती है. कमीशन के सेक्रेटरी के मुताबिक ग्रेड टू इम्तिहान में मुल्क का कोई भी उम्मीदवार शामिल हो सकता है. कानून की दफा 370 लागू नहीं है, जिससे दीगर रियासत के उम्मीदवारों को रोका जा सके. इम्तिहान में झारखंड सरकार की रिजर्वेशन पालिसी की बुनियाद पर ही ताक़र्रुरी की गयी है.

TOPPOPULARRECENT